प्रधानमंत्री विशेषज्ञों के साथ बैठक में अर्थव्यवस्था की स्थिति का लेंगे जायजा
दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल नीति आयोग की बैठक में अर्थव्यवस्था की स्थिति का जायजा लेंगे और आर्थिक वृद्धि को गति देने के उपायों पर चर्चा करेंगे.  नोटबंदी के बाद नकदी की तंगी के बीच यह बैठक हो रही है.   एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा कि कल की बैठक का विषय 'आर्थिक नीतियों में सुधार और आगे का  मार्ग' है. प्रधानमंत्री शुरुआत में बैठक को संबोधित करेंगे. बैठक में 15 आमंत्रित सदस्य हैं जो प्रधानमंत्री के समक्ष अपनी बात रखेंगे. रिजर्व बैंक और विभिन्न बहुपक्षीय एजेंसियों द्वारा चालू वित्त वर्ष के लिये वृद्धि के अनुमान को कम किये जाने के लिहाज से यह बैठक महत्वपूर्ण है. रिजर्व बैंक ने इस महीने की शुरुआत में मौद्रिक नीति समीक्षा में आर्थिक वृद्धि के अनुमान को 7.6 प्रतिशत से घटाकर 7.1 प्रतिशत कर दिया है.  वहीं बहुपक्षीय एजेंसी एशियाई विकास बैंक ने भी नोटबंदी की आर्थिक गतिविधियों पर पड़ने वाले प्रभाव को देखते हुए वृद्धि के अनुमान को कम कर 7.0 प्रतिशत कर दिया जबकि पहले उसने 7.4 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान लगाया था.  वित्त वर्ष 2016-17 की पहली और दूसरी तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर क्रमश: 7.1 प्रतिशत तथा 7.3 प्रतिशत रही. अधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिये नीति आयोग की लकी ग्राहक योजना तथा डिजिधन व्यापार योजना जैसी पहल का भी जायजा लेंगे.  इन योजनाओं पर व्यय (14 अप्रैल 2017)  340 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है.