नई दिल्ली. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आज लोगों से अपने विदाई भाषण के जरिए संपर्क किया. शिकागो में ओबामा के इस भाषण में ऐसे कई पल आए जो लोग भावुक हुए, ओबामा खुद भावुक हुए.
स्थिति कुछ यूं थी कि बराक ओबामा के गृहनगर शिकागो में विदाई भाषण के दौरान भारी संख्या में लोग मौजूद थे. लोगों ने भाषण के दौरान कई बार तालियां बजाकर ओबामा की बात का समर्थन किया.
इस सबके बीच भीड़ में से एक महिला ने हाल में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रैट्स की हार के लिए माफी मांगी. इस महिला ने राष्ट्रपति ओबामा की ओर एक कपड़ा कर उसमें संदेश लिखा था. महिला ने राष्ट्रपति ओबामा से इस संदेश के जरिए यह मांग की कि वह अभी सभी लोगों को माफ करें.
 
विदाई भाषण देते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा
उसके भाव से साफ झलक रहा था कि वह अमेरिकी राष्ट्रपति पद के चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप की जीत के विरोध में यह कह रही हैं. उसने लोगों के बीच में खड़े होकर पूरे मन से यह बात कही. उसका भाव वाकई कुछ कह रहा था. इस खूबसूरत महिला के चेहरे में ओबामा के विचारों की हार और ट्रंप की जीत पर अफसोस के भाव दिख रहे थे. महिला का आत्मविश्वास साफ दर्शा रहा था कि उसे हार के कारण दुख है.
इसमें कोई दो राय नहीं कि अमेरिकी राष्ट्रपतियों में पहली बार कोई अश्वेत इस पद पर पहुंचा. अमेरिकी लोगों ने नस्लवाद से ऊपर उठकर एक अश्वेत को राष्ट्रपति चुना. इतना ही नहीं लोगों ने ओबामा को भरपूर प्यार दिया और दूसरा कार्यकाल भी ओबामा को सौंपा. इस बार ओबामा ने पूरा प्रयास किया कि डेमोक्रैट उम्मीदवार और उनकी सहयोगी रहीं हिलेरी क्लिंटन राष्ट्रपति पद का चुनाव जीत जाएं लेकिन ऐसा हो न सका.
हाल में हॉलीवुड की वरिष्ठ अभिनेत्री मेरिल स्ट्रीप ने गोल्डन ग्लोब अवार्ड समारोह में सेसिल बी डीमिले अवॉर्ड स्वीकार करते हुए मंच से दिए गए भाषण में नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर निशाना साधा और कहा कि हॉलीवुड बाहरी लोगों से बना है. स्ट्रीप ने अपने भाषण की शुरुआत यह कहते हुए की कि वह इस साल की शुरुआत से कुछ पहले ही अपनी आवाज और दिमाग खो बैठी हैं इसलिए वह लिखित भाषण पढ़ना चाहेंगी.
कई पुरस्कार जीत चुकीं अभिनेत्री मेरिल स्ट्रीप हॉलीवुड में एक सम्मानित हस्ती हैं. उन्होंने कहा कि इस साल जो प्रस्तुति सबसे अलग रही, वह किसी अभिनेता की नहीं बल्कि ट्रंप की थी. यह प्रस्तुति उन्होंने एक विकलांग पत्रकार का सार्वजनिक तौर पर मजाक उड़ाते हुए दी थी.