लखनऊ. समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बीच खीचतान जारी है। कई प्रयासों के बावजूद पार्टी में चल रहा झगडा सुलझ नहीं रहा है। अखिलेश गुट ने बीते दिन विधायकों सांसदों के समर्थन के हलफनामे चुनाव आयोग को सौंपे है, वहीं मुलायम सिंह आज दिल्ली जा रहे है और आयोग जाकर बेटे अखिलेश को जवाद दे सकते है। 
माना जा रहा है सीएम बेटे अखिलेश को मुलायम सिंह जवाब देने के लिए दिल्ली पहुंच रहे। मुलायम के साथ उनके शिवपाल भी होंगे। आपको बता दें कि अखिलेश और शिवपाल की तनातनी पिछले कुछ दिनों से काफी सुर्खियों में है।
ज्ञात रहे कि मुलायम और शिवपाल सोमवार को चुनाव आयोग पहुंच कर अखिलेश खेमे के उन हलफनामों का जवाब दे सकते हैं, जिसमें पार्टी के 90 फीसद विधायकों, सांसदों और एमएलसी के साथ होने का दावा किया गया था।
मुलायम के चचेरे भाई रामगोपाल यादव कल सात कार्टन में डेढ़ लाख पन्नों के दस्तावेज लेकर आयोग पहुंचे थे। चुनाव आयोग ने दोनों पक्षों से सारे दस्तावेज सोमवार तक देने के लिए कह रखा है। इससे पहले मुलायम ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखकर चुनाव चिन्ह साइकिल पर दावा ठोका था।
मुलायम ने पार्टी के उस अधिवेशन को भी गलत कहा था जिसमें अखिलेश यादव को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बना दिया गया था। दोनों पक्ष को खुद को असली एसपी बता रहे हैं और ये सब तब हो रहा है जब सिर पर चुनाव है। अखिलेश-मुलायम में सुलह-समझौते के कोई आसार नहीं है और दिल्ली तक पहुंचे घर के झगड़े से यूपी की सत्ता छिनने तक की नौबत आ सकती है।