ऐसे बढ़ाएं डेस्कटॉप की स्पीड 
कंप्यूटर हो या अन्य कोई टेक्नोलॉजी इनका एक अभिन्न अंग हैं-स्पीड. जैसे-जैसे नवीन टेक्नोलॉजी या प्रोडक्ट आते हैं, वैसे ही उनमें स्पीड को लेकर प्रतिस्पर्धा भी बढ़ जाती है. आज कम समय में मल्टीटास्क को तवज्जो दी जाती है. कोई भी प्रोडक्ट खरीदते समय यूजर को उसकी परफॉरमेंस से कई उम्मीदें होती हैं. डेस्कटॉप खरीदते समय भी हमें यही आशा होती है कि उसमें एक ही समय पर कई एप्लीकेशन के प्रयोग कर पाएं. नए डेस्कटॉप पर आमतौर से हमें परेशानियां नहीं आतीं. शुरुआत में मल्टी एप्लीकेशन का प्रयोग करते हुए भी कंप्यूटर तेज़ स्पीड में चलता है, पर डेस्कटॉप की ख्वाइश रखने वाले अक्सर उसमें कई सारी एप्लिकेशंस का प्रयोग करना चाहते हैं. साथ ही अगर आपको पिक्चर्स एडिट करने का शौक है तो आपको अपने पीसी में अच्छी खासी मेमोरी की भी आवश्यकता पड़ती होगी. इन सभी कार्यों के बीच धीरे-धीरे जैसे आपकी कंप्यूटर की स्टोरेज बढ़ती जाती है, उसकी स्पीड कम होने लगती है. आपको महसूस होता है कि आप पहले की तरह अपने पीसी का इस्तमाल नहीं कर पा रहे, उसकी फंक्शन करने की स्पीड भी कम हो गई.
-कंप्यूटर की रैम को बदलें 
ऐसे में अगर आपको आज की डिजिटल टेक्नोलॉजी के साथ चलना है तो सबसे सस्ता और अच्छा उपाय अपने कंप्यूटर की रैम को बदलना है. इससे आप अपने पीसी का बेहतर रूप में प्रयोग कर पाएंगे और वह सभी कार्य कर पाएंगे, जो आप करना चाहते हैं-जैसे कि ढेर सारी पिक्चर्स, गाने रखना, सॉफ्टवेयर डाउनलोड कर उन्हें यूज करना आदि.
- कैसे करें रैम का चुनाव 
जब भी आप कोई एप्लीकेशन चलाते हैं तो वो टास्क कंप्यूटर की मेमोरी में जाता है. अपने डेस्कटॉप के लिए रैम लेने जाने से पहले ये ज़रूर देखे की आपको कितने रैम की जरूरत है. अगर आप अपने पीसी का प्रयोग बेसिक चीजों जैसे की मेल चेक करना आदि के लिए करते है तो 384 से 512 एमबी रैम आपकी लिए काफी है. कंप्यूटर में जितनी अधिक प्रोसेसिंग होगी उतनी अधिक रैम की आवश्यकता होगी. अगर आपका डेस्कटॉप ऑफिस वर्क के लिए प्रयोग होता है और आप एक समय में कई एप्लिकेशंस का प्रयोग करते हैं तो आपको 1 जीबी तक रैम की जरूरत पड़ेगी. हालांकि गेमिंग और हैवी प्रोग्राम्स के लिए कंप्यूटर में 1 से 2 जीबी या उससे अधिक तक की रैम होनी चाहिए.
-अपने डेस्कटॉप में रैम कैसे लगाएं
एक बार आपने अपने कंप्यूटर के लिए रैम का चुनाव कर लिया, उसके बाद समय है की आप अपने डेस्कटॉप में रैम लगाएं. इससे पहले की आप इस कार्य की शुरुआत करें, ध्यान रखे की आपका डेस्कटॉप बंद हो और उससे जुडी सभी वायर सॉकेट से बाहर हो. डेस्कटॉप अलग-अलग तरह से बने होते हैं, पर उसके ऊपर या साइड का कवर स्क्रूड्राइवर की मदद से खुल जाता है. रैम स्लॉट्स कंप्यूटर के मदरबोर्ड पर होता है. आमतौर पर इसके लिए दो स्लॉट होते हैं, हालांकि इससे अधिक भी उपलब्ध हो सकते हैं. अगर सभी स्लॉट में रैम लगी हुई है, तो कॉम स्पेस की रैम को ज्यादा स्पेस की रैम से बदला जा सकता है. अब पुराने मॉड्यूल को निकाल नया मॉड्यूल डालने के लिए टैब को रिलीज कर दें. अगर स्लॉट पहले से खुला है तो नए मॉड्यूल को उसमें सेट कर दें.
-अपनाएं ये टिप्स भी
एक बार जब आपने अपनी रैम इनस्टॉल कर ली, तब अपने कंप्यूटर को बंद करें और उसे रीस्टार्ट कर लें. कंप्यूटर अपने आप नइ रैम को एक्सेप्ट कर लेगा और आपका काम बेहद आसानी और सस्ते में पूरा हो जाएगा. अब आपकी कंप्यूटर की स्पीड बढ़ जाएगी और आप आसानी से एक समय में कई एप्लिकेशंस का प्रयोग कर पाएंगे.