जिले के कृषि विकास में अहमदनगर जिला सहकारी बैंक का योगदान अहम

– संगमनेर में बैंक नूतन शाखा इमारत भूमिपूजन के अवसर पर राजस्वमंत्री थोरात का प्रतिपादन

अहमदनगर. सहकार के जिले के रूप में अहमदनगर जिले की पहचान पूरे राज्य में है. सहकार समेत विविध क्षेत्रों के विकास कामों के लिए वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने का काम अहमदनगर जिला सहकारी बैंक करती है. अनुशासन और कीफायती कारोबार यह जिला बैंक की विशेषता है. नगर जिले में कृषि विकास में जिला सहकारी बैंक का बड़ा योगदान है. ऐसा प्रतिपादन राजस्वमंत्री बालासाहब थोरात ने किया.

 संगमनेर में जिला सहकारी बैंक के नूतन शाखा इमारत के निर्माण का शुभारंभ थोरात के हाथों किया गया. इस अवसरपर मंत्री थोरात बोल रहे थे. जिला बैंक के अध्यक्ष सीताराम गायकर की अध्यक्षता में इस समारोह के लिए विधायक डॉ.सुधीर तांबे, बाजीराव खेमनर पाटिल, नगराध्यक्षा दुर्गा तांबे,बैंक उपाध्यक्ष रामदास वाघ,एड.माधवराव कानवडे,शिवाजीराव थोरात,अमित पंडित,लक्ष्मणराव कुटे,संपतराव डोंगरे.बैंक के मुख्य कार्यकारी अधि कारी रावसाहब वर्पे,बापूसाहब गिरी आदि समेत मान्यवर उपस्थित थे.

राजस्वमंत्री थोरात ने कहा कि सहकार महर्षि स्वर्गीय भाऊसाहब थोरात और जिला सहकारी बैंक का अटूट नाता था. 45 वर्ष संचालक और 15 वर्ष बैंक का चेअरमैन रहे भाऊसाहब थोरात ने किफायती और पारदर्शी कारोबार से पुरे राज्य में बैंक का एक लौकिक निर्माण किया. गरीब और सामान्य लोगों के जीवन में आनंद निर्माण कराने का काम जिला सहकारी बैंक व्दारा किया जा रहा है.बैंक के अध्यक्ष सीताराम गायकर का भाषण हुआ.मुख्य कार्यकारी अधिकारी राव साहब वर्पे ने प्रस्तावना की. बापु साहब गिरी ने स्वागत किया.नामदेव कहांडल ने सूत्रसंचालन किया.उपाध्यक्ष रामदास वाघ ने आभार व्यक्त किया.