केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ कांग्रेस का हल्लाबोल

अहमदनगर. केंद्र सरकार ने किसी प्रकार की चर्चा किए बिना ही लागू किए कृषि विधेयक और कामगार विधेयक पूरी तरह गलत है. इस कानून को तुरंत रद्द करने की मांग के लिए दिल्ली की सीमा पर जारी किसानों के आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष राजस्वमंत्री बालासाहब थोरात के मार्गदर्शन में संगमनेर शहर और तहसील कांग्रेस की ओरसे जोरदार प्रदर्शन करते धरना आंदोलन किया गया.

संगमनेर के बस स्टैंड के सामने शेतकरी विकास मंडल के अध्यक्ष बाजीराव खेमनर, नगराध्यक्ष दुर्गा तांबे, तहसील अध्यक्ष बाबा ओहोल, सभापति मीरा शेटे, पंचायत समिति सभापति सुनंदा जोर्वेकर, नवनाथ अरगडे, हीरालाल पगडाल, आर.बी. रहाणे, गणपतराव सांगले, निर्मला गुंजाल, उबेद शेख, उपनगराध्यक्ष कुंदन लहामगे, प्रा. बाबा खरात, कांग्रेस सेवादल के जिलाध्यक्ष सुरेश झावरे समेत कांग्रेस के कार्यकर्ता भारी संख्या में आंदोलन के लिए उपस्थित थे.

इस अवसर पर नगराध्यक्ष दुर्गा तांबे, बाबा ओहोल, मीरा शेटे, रामहरी कातोरे, शिवाजी जगताप, शेखर सोसे, माणिकराव यादव, हीरालाल पगडाल, भास्कर शेरमाले, गणपतराव सांगले, सुभाष सांगले, आनंद वर्पे, अरुण कानोरे आदि ने अपने भाषण में केंद्र सरकार पर जोरदार टीका की. नायब तहसीलदार सुभाष कदम ने निवेदन का स्वीकार किया. प्रा.बाबा खरात ने सूत्र संचालन किया.