जरूरतमंदों को आधार देना ही सही मानवता

– महेश गुंदेचा का प्रतिपादन

-जैन ओसवाल वात्सल्य संस्था  की ओर से जरूरतमंद परिवारों को किराना वितरण

अहमदनगर. कोरोना का संकट ने पूरी मानव जाति को एक सबक सिखाया है. कई सालों से अपने देश में संत महात्माओं द्वारा मानवता का जतन करने की सीख समाज को दी है. जरूरतमंद लोगों को संकट के समय में मदद करना, आधार देना ही सही मायने में मानवता है. ऐसा प्रतिपादन बिल्डर्स असोसिएशन के अध्यक्ष महेश गुंदेचा ने किया.

गरीब परिवारों को किराना आवंटित

जैन ओसवाल वात्सल्य संस्था की ओर से लाकडाउन के समय में नगर शहर के 70  गरीब-जरूरतमंद परिवारों को किराना आवंटित करते समय गुंदेचा बोल रहे थे. स्वाति गुंदेचा, चंपालाल मुथा (ओडणावाला),जैन ओसवाल वात्सल्य संस्था के अध्यक्ष अजित बोरा, सेक्रेटरी विजय गुगले, जैन ओसवाल पतसंस्था अध्यक्ष ईश्वर बोरा, विनोद चंगेडिया, नंदलाल कोठारी, महेश गुगले, मूलचंद डागा आदि उपस्थित थे.इस कार्यक्रम में सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते 70 परिवारों को 1 महीने का किराना दिया गया. 

जरूरतमंद लोगों की मदद की जा रही

महेश गुंदेचा ने कहा कि जैन ओसवाल वात्सल्य संस्था संतों की सीख के अनुसार मानवता को प्रधानता देकर कार्य कर रही है. लाकडाउन के दौरान गरीब, बे सहारा,जरूरतमंद लोगों को अविरत रूप से मदद की जा रही है. संस्था के कार्य में भाग लेने का अवसर मिला यह सौभाग्य की बात है. चंपालाल मुथा,स्वाति गुंदेचा,संस्था के अध्यक्ष अजित बोरा के भाषण हुए. नवकार मंत्रजाप से कार्यक्रम की शुरूआत हुई. सेक्रेटरी विजय गुगले ने प्रस्तावना की.नंदलाल कोठारी ने आभार व्यक्त किए.