Thorat Meeting Sangamner

    अहमदनगर. विगत कुछ समय से पूरे राज्य में कोरोना (Corona) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। कोरोना की दूसरी लहर (Second Wave) को अहमदनगर जिला (Ahmednagar District), संगमनेर तहसील (Sangamner Tehsil) और शहर में रोकने के लिए पूरी ताकत के साथ प्रशासन काम कर रहा है। मौजूदा स्थिति में राज्य में तेजी से बढ़ रहा कोरोना का संक्रमण चिंता बढ़ानेवाला है। इन बातों के मद्देनजर कोरोना टीकाकरण बढ़ाने के साथ ही नागरिकों में जागृति लाना आवश्यक है। ऐसा प्रतिपादन राजस्वमंत्री बालासाहब थोरात (Balasaheb Thorat) ने किया।

    संगमनेर में आयोजित समीक्षा बैठक में राजस्वमंत्री थोरात बोल रहे थे। इसमें विधायक डॉ. सुधीर तांबे, नगराध्यक्षा दुर्गा तांबे,  प्रांत अधिकारी डॉ. शशिकांत मंगरुले, तहसीलदार अमोल निकम, उपविभागीय पुलिस अधिकारी राहुल मदने, नगर परिषद के मुख्याधिकारी डॉ. सचिन बांग, गुटविकास अधिकारी सुरेश शिंदे, तहसील स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुरेश घोलप, पुलिस निरीक्षक मुकुंद देशमुख, डॉ. संदीप कचोरिया, डॉ. राजकुमार जर्हाड, विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 

    लॉकडाउन विकल्प नहीं

    इस बैठक में थोरात ने कहा कि विगत वर्ष पूरे विश्व में कोरोना महामारी का संकट पैदा हो जाने के बाद राज्य में महाविकास आघाडी सरकार ने कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए अच्छा काम किया, लेकिन विगत 4 महीनों में नागरिकों की लापरवाही के कारण कोरोना का संक्रमण अब तेजी से बढ़ने लगा है। नागरिकों की लापरवाही ही करोना संक्रमण की दूसरी लहर का कारण है। यह बात चिंता बढ़ाने वाली है। कोरोना को रोकने के लिए लॉकडाउन विकल्प नहीं है। कोरोना को रोकने के लिए हर व्यक्ति को निजी स्तर पर अधिक सावधानी बरतना जरुरी है।