जिला अस्पताल में रेमडेसिवीर इंजेक्शन की आपूर्ति करें

  • छावा क्रांतिवीर संगठन ने मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को भेजा निवेदन

अहमदनगर. अहमदनगर जिले में दिनों-दिन कोरोना संक्रमण गति से बढ़ रहा है. इसी दौरान जिला सरकारी अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए आवश्यक होनेवाले रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कमी महसूस हो रही है. इस कारण मरीजों के रिश्तेदारों को आधिक दाम देकर निजा दुकानों से यह इंजेक्शन खरीदना पड़ रहा है. इन बातों के मद्देनजर अहमदनगर के जिला सरकारी अस्पताल में रेमडेसिवीर इंजेक्शन की आपूर्ति तुरंत कराने की मांग छावा क्रांतिवीर संगठन ने मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के पास निवेदन भेजकर की है.

छावा संगठन के जिलाध्यक्ष रावसाहब तकाले ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे को भेजे निवेदन में कहा है कि नगर जिले में विगत कुछ समय से कोरोना मरीजों की संख्या गति से बढ़ रही है. कोरोना संक्रमित मरीजों पर इलाज के लिए रेमडेसिवीर इंजेक्शन का इस्तेमाल किया जाता है. कोरोना संक्रमित मरीजों को सास लेने में तकलीफ के कारण उनके फेंफडे़ में कोरोना संक्रमण रोकने के के लिए इस इंजेक्शन का इस्तेमाल होता है. इस कारण इस इंजेक्शन की मांग में भारी वृध्दि हुई है. 

…तो जिला सरकारी अस्पताल के सामने होगा आंदोलन 

अहमदनगर के जिला सरकारी अस्पताल में रेमडेसिवीर इंजेक्शन का भंडार खत्म हुआ है. इस स्थिति का गलत फायदा  लेकर निजी अस्पतालों में मरीजों के रिश्तेदारों की लूट हो रही है. रेमडेसिवीर इंजेक्शन के बारे में सामान्य लोगों से शिकायते होने के बावजूद प्रशासन व्दारा नियुक्त लेखा परीक्षण समिति व्दारा किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हो रही है. इन बातों के मद्देनजर राज्य सरकार ने अहमदनगर के जिला सरकारी अस्पताल को रेमडेसिवीर इंजेक्शन की आपूर्ति भरपूर मात्रा में कराने की मांग की है.जल्द आपूर्ति नहीं हुई तो जिला सरकारी अस्पताल के सामने आंदोलन करने की चेतावनी छावा क्रांतिवीर संगठन ने दी है.