44.19 करोड़ रु. की जल कर वसूली की ओर ग्राम पंचायतों की अनदेखी

  • दिए जल कर वसूली करने के निर्देश

अकोला. जल कर वसूली के कार्य में संबंधित ग्राम पंचायतों की अनदेखी हो रही है. जिला परिषद अंतर्गत अकोला जिले के 6 प्रादेशिक जलापूर्ति योजना की जल कर बकाया रकम अगस्त माह के अंतर्गत लगभग 44 करोड 19 लाख 96 हजार 159 रु. बकाया है, यह जानकारी सूत्रों द्वारा दी गयी है.

जि.प. के ग्रामीण जलापूर्ति योजना के अंतर्गत जिले में अकोला, अकोट, बालापुर और तेल्हारा इन चार तहसीलों के गांवों के लिए 6 प्रादेशिक जलापूर्ति योजनाएं कार्यान्वित हैं जिसमें अकोला तहसील के 64 गांव, अकोट व तेल्हारा तहसील के 84 गांव और बालापुर तहसील के कारंजा रमजानपुर, लोहारा और वझेगांव आदि के लिए योजना का समावेश हैं.

योजना के अंतर्गत गांवों में जल कर वसूली करने की जिम्मेदारी संबंधित ग्राम पंचायतों की है लेकिन अकोला, अकोट, बालापुर और तेल्हारा तहसील अंतर्गत प्रादेशिक जलापूर्ति योजना की अगस्त अंत तक लगभग 44.19 करोड़ रु. की जल कर रकम बकाया है. जल कर की वसूली करने के लिए संबंधित ग्राम पंचायतें पूरी तरह अनदेखी कर रहे हैं, यह स्पष्ट दिखाई दे रहा है.

इस संदर्भ में संपर्क करने पर बकाया जल कर की रकम वसूल करने हेतु ग्राम पंचायतों को निर्देश दिए जाने की जानकारी जि.प. के ग्रामीण जलापूर्ति विभाग के कार्यकारी अभियंता किशोर ढवले ने दी है.