नवनियुक्त सदस्यों का अभिनंदन करते हुए मान्यवर
नवनियुक्त सदस्यों का अभिनंदन करते हुए मान्यवर

अकोला. आज शुक्रवार को अकोला महानगरपालिका की विशेष सभा मनपा सभागृह में ली गयी जिसमें के स्वीकृत सदस्य पद पर भाजपा के सिद्धार्थ शर्मा, गिरीश जोशी और विजय जयपिल्ले का चयन किया गया. इस अवसर पर मंच पर महापौर अर्चना मसने, उप महापौर राजेंद्र गिरी, मनपा आयुक्त संजय कापडणीस प्रमुखता से उपस्थित थे. एड.गिरीश गोखले, सुजीतसिंह ठाकुर तथा डा.विनोद बोर्डे द्वारा स्वीकृत सदस्य पद से त्यागपत्र दिये जाने के बाद उनके स्थान पर नये सदस्यों की चयन प्रक्रिया पूर्ण की गयी. भाजपा के गट नेता राहुल देशमुख ने इस संदर्भ का पत्र महापौर को प्रस्तुत किया था उस अनुसार नगर सचिव अनिल बिडवे ने नये सदस्यों के चयन की घोषणा की. नये सदस्यों का सभागृह में सभी ने अभिनंदन किया है. इस अवसर पर भाजपा के महानगर अध्यक्ष विजय अग्रवाल, स्थायी समिति सभापति सतीश ढगे, पार्षद संजय बडोणे, पार्षद हरीश आलिमचंदानी, गीतांजलि शेगोकार, पूर्व महापौर सुमन गावंडे आदि उपस्थित थे. 

जयपिल्ले, शर्मा, जोशी के चयन से उत्साह का वातावरण
पूर्व पार्षद विजय जयपिल्ले, इसी तरह पूर्व पार्षद सिद्धार्थ शर्मा और गिरीश जोशी को स्वीकृत सदस्य के रुप में मनोनीत किए जाने से शहर में उत्साह का वातावरण है. विजय जयपिल्ले इसके पूर्व दो बार निर्वाचित पार्षद रह चुके हैं. सिद्धार्थ शर्मा भी निर्वाचित पार्षद रह चुके हैं. गिरीश जोशी इसके पहले स्वीकृत पार्षद रह चुके हैं. इसी तरह वे भाजपा संगठन में प्रचार प्रमुख हैं. गिरीश जोशी और सिद्धार्थ शर्मा भाजपा के प्रखर वक्ता भी हैं. 

मनपा सभागृह नेता पद पर योगीता पावसाले का चयन 
मनपा सभागृह नेता गीतांजलि शेगोकार द्वारा त्यागपत्र दिये जाने के बाद उनके स्थान पर योगीता पावसाले का आज चयन किया गया. इस अवसर पर उपस्थित सभी ने उनका अभिनंदन किया. प्रारंभ में जिलाधिकारी जीतेंद्र पापलकर द्वारा भेजा गया कोरोना की स्थिति के संदर्भ का पत्र नगर सचिव अनिल बिडवे ने पढ़कर सुनाया. इस संदर्भ में मनपा आयुक्त संजय कापडणीस ने कहा कि शहरी क्षेत्र में कोरोना का संक्रमण कम हुआ है लेकिन ग्रामीण क्षेत्र में अभी भी संकट बना हुआ है. जिससे सतर्कता बरतना जरुरी है. लापरवाही बरती जाये तो नवंबर माह तक स्थित ऐसी भी बनी रहने की संभावना है, जिससे संसर्ग दिखाई देने पर जल्द उपचार लें, जिससे जान का संकट टाला जा सके. साथ ही, यहां मृत्यु दर वर्तमान में 4.2 प्रतिशत है, जो राज्य की तुलना में अधिक है. नागरिकों को इसे नीचे लाने के लिए चल रहे प्रयासों का समर्थन करना चाहिए, यह भी अपील मनपा आयुक्त संजय कापडणीस ने की है.