Farmer got electrocuted due to negligence, demand for compensation

    • शाह एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई
    • बीज की बिक्री पर 7 दिनों का प्रतिबंध

    अकोला. कृत्रिम कमी के कारण सोयाबीन के बीज अत्यधिक दरों पर बेचे जा रहे हैं, ऐसी शिकायत के बाद कृषि विभाग ने बुधवार को जिला कृषि विभाग द्वारा कई कृषि केंद्रों का निरीक्षण किया गया. निरीक्षण के दौरान शाह एजेंसी में करीब एक हजार बोरी सोयाबीन के बीज मिले, जो सोयाबीन के बीज नहीं होने का दावा कर किसानों को खाली हाथ वापस लौटा रही थी. जिससे कृषि विभाग के अधिकारियों ने शाह एजन्सी पर कार्रवाई करते हुए 7 दिनों तक बीज की बिक्री करने पर प्रतिबंध लगाया है.

    कम बारिश के कारण जिले के किसानों ने बुवाई के लिए बीज खरीदना लगभग शुरू कर दिया है. बीज खरीदने के लिए किसानों की भीड़ को देखते हुए कुछ कृषि केंद्र संचालकों ने सोयाबीन के बीज का स्टॉक करना शुरू कर दिया है. भले ही उनके पास सोयाबीन के बीज हैं, लेकिन वे बीज नहीं होने का बहाना बनाकर किसानों को वापस लौटा रहे हैं.

    इस संबंध में कई शिकायतें जिला कृषि अधीक्षक डा.के.बी. खोत को मिली है. जिससे बुधवार को कृषि अधिकारी और तहसील कृषि अधिकारी ने अकोला में कई कृषि केंद्रों का दौरा किया. उस समय शाह एजेंसी में 1061 बोरी बीज मिले थे. इस समय तहसील कृषि अधिकारी डी.एस. प्रधान, मंडल कृषि अधिकारी प्रदीप राऊत यह भी कार्रवाई में शामिल हुए थे. 

    शाह एजेंसी के गोदाम का निरीक्षण करने पर वहां सोयाबीन के बीज मिले हैं. कृषि केंद्र के संचालक की यह कार्रवाई अवैध है. इस प्रकार जमाखोरी करने वालों को दंडित किया जाएगा, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी और उनके लाइसेंस निलंबित कर दिए जाएंगे.-डा.के.बी. खोत (जिला कृषि अधीक्षक)