Customers are not leaving even after being unlocked, traders appeal to be careful

    • बड़ी संख्या में ठीक हो रहे हैं कोरोना के रोगी

    अकोला. अकोला शहर तथा जिले में अब धीरे धीरे कोरोना संक्रमित रोगी कम होते जा रहे हैं. पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण 5 प्रश पर आ गया था अब धीरे धीरे 2 प्रश पर पहुंच रहा है. 2 प्रश से कम होते ही शहर तथा जिले में अनलाक होने की संभावना है. 

    कम होता जा रहा कोरोना संक्रमण

    कोरोना संक्रमण अब धीरे धीरे कम होता जा रहा है. कोरोना के रोगी भी अब काफी कम होते जा रहे हैं. अब यह संक्रमण 2 प्रश तक दिखाई दे रहा है. सोमवार को अकोला में सिर्फ 14 कोरोना पाजिटिव रोगी पाए गए. प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक 57,160 लोगों को कोरोना का संक्रमण हुआ जिसमें से करीब 54,756 कोरोना के रोगी ठीक हुए. अब तक कोरोना से 1114 लोगों की मौत हुई है.

    अभी करीब 1250 से कुछ अधिक रोगी कोरोना का उपचार करवा रहे हैं. फिलहाल स्थिति काफी सुधार पर है. वर्तमान समय में निगेटिव रोगियों की संख्या अधिक तथा पाजिटिव रोगियों की संख्या कम होती जा रही है. इसी तरह कोरोना के विषय में जिले का रिकवरी रेट काफी बढ़ा है. 

    अब जिला अनलाक की ओर

    अब तक कोरोना संक्रमण 2 प्रश पर आ गया है. इस कारण सभी लोगों को उम्मीद हो गई है कि अब शहर तथा जिला अनलाक की ओर अग्रसर है. पिछले काफी लंबे समय तक अकोला शहर तथा जिले में लाकडाउन लगाया गया था, उसके बाद अब सोमवार से शुक्रवार तक सभी प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति दी गई है और शनिवार, रविवार पूरी तरह से लाकडाउन रहता है.

    लोगों का कहना है कि बहुत से लोग ऐसे हैं जिनको शनिवार और रविवार को ही अवकाश रहता है. इस परिस्थिति में उन्हें सिर्फ दो ही दिन मिलते हैं. लेकिन शनिवार, रविवार को पूरा लाकडाउन रहने से उनके काम नहीं हो पाते हैं. इस ओर भी ध्यान दिया जाना जरूरी है. अब तो परिस्थितियां ही ऐसी हैं कि जल्दी ही शहर तथा जिले में अनलाक हो जाएगा. 

    व्यापारी भी चाहते हैं अनलाक

    इस बारे में शहर तथा जिले के सभी व्यापारी भी अब अनलाक चाहते हैं. व्यापारियों का कहना है कि काफी लंबा समय लाकडाउन में चला गया है. बाजारों की स्थिति खराब है. बाजारों का कोई क्षेत्र ऐसा नहीं है जहां मंदी न हो. यह देखते हुए जिला प्रशासन ने अब अनलाक की ओर कदम बढ़ाना चाहिए. वैसे भी अब धीरे धीरे कोरोना संक्रमण काफी कम हो गया है. इस ओर ध्यान देते हुए जल्दी ही अनलाक होना अब जरूरी हो गया है. सभी का ध्यान इस ओर लगा हुआ है कि कब अनलाक की घोषणा की जाती है. 

    सूचनाओं का पालन जरूरी -प्रा.संजय खड़से

    इस बारे में बातचीत करने पर निवासी उप जिलाधिकारी प्रा.संजय खड़से ने कहा कि यह सही है कि कोरोना संक्रमण का प्रतिशत कम होता जा रहा है. लेकिन अभी भी लोगों का काम है कि पूरी तरह से सावधानी बरतें और कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए दी जानेवाली सरकारी सूचनाओं का पालन करें. घर से बाहर निकलते समय मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करें और दिन में कई बार साबुन से अच्छी तरह से हाथ धोएं, जहां तक हो सके भीड़ न करें और भीड़ से दूर रहें.