कोरोना योद्धा आशा व गट प्रवर्तकों को 7 माह के फरक की रकम दी जाए

  • आयटक ने किया प्रदर्शन

अकोला. कोरोना योद्धा के रूप में कार्यरत आशा गट प्रवर्तकों को मुख्यमंत्री द्वारा घोषित दिशा निर्देश के अनुसार पिछले 7 माह के फरक की रकम शीघ्र अदा की जाए. इस मांग के साथ अन्य मांगो को लेकर कामगार नेता नयन गायकवाड के नेतृत्व में आयटक द्वारा प्रदर्शन किया गया. स्वास्थ्य विभाग में 27 हजार पद रिक्त है फिर भी ठेका पद्धती पर कामगारों की भरती की जा रही है.

आशा गट प्रवर्तक महिलाओं को प्रतिमाह 15,500 हजार रू. तथा यात्रा भत्ता अतिरिक्त दिया जाए. आदि मांगों को लेकर केंद्र सरकार की कामगार निति का निषेध व्यक्त किया गया. मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी मुहिम के लिए 300 रू. अतिरिक्त मानधन दिया जाए, दैनिक भत्ता शुरू किया जाए, सामाजिक सुरक्षा का लाभ दिया जाए, कोरोना संकट के समय कामगारों को सुरक्षा सामग्री उपलब्ध करवाई जाए आदि मांगे रखी गई.

आंदोलन में नयन गायकवाड, मायावती बोरकर, छाया वारके, सविता प्रधान, अश्विनी लंकेश्वर, निर्मला लव्हाले,  प्रीती नाईशे, प्रमिला डाबेराव आदि उपस्थित थे.