farmer

    • सभी तहसीलों में नहीं हुई अच्छी बारिश
    • बारिश और तेज हवाओं से बालापुर में नुकसान 

    अकोला. रविवार की शाम अकोला के साथ साथ जिले के अनेक स्थानों में अच्छी बारिश हुई है. कुछ स्थानों पर इस बारिश के कारण फसलों को जीवनदान मिला है. इसी तरह अभी भी जिले के कई क्षेत्रों में समुचित बारिश न होने के कारण किसानों ने बुआई शुरू नहीं की है. अभी भी किसानों को बुआई के लिए दमदार बारिश का इंतजार है. प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोला तहसील में रविवार को 11.1 मि.मी. बारिश दर्ज की गयी है. इस बारिश के बाद अब किसान बुआई के काम शुरू करेंगे. 

    बालापुर में फसलों को जीवनदान मिला तेज हवाओं से हुई हानि

    बालापुर संवाददाता से प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार की शाम अच्छी बारिश हुई है. रविवार को बालापुर में 2.8 मि.मी. बारिश दर्ज की गयी है. यहां पर रविवार की शाम को तेज हवाओं के कारण अनेक क्षेत्रों में घरों के टीन उड़ गए हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार तहसील कार्यालय के टीन उड़ने से भी नुकसान हुआ है. तहसील कार्यालय के काफी कागजात गीले हो जाने की जानकारी मिली है. बालापुर तहसील में किसानों ने करीब 60 से 70 प्रश बुआई पूरी कर ली थी.

    उन फसलों की हालत बिगड़ रही थी. लेकिन रविवार की शाम हुई बारिश के कारण उन फसलों को जीवनदान मिला है. रविवार की शाम बालापुर शहर के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों में कई पेड़ तेज हवाओं के कारण गिरने की जानकारी मिली है. इसी तरह बालापुर की बिजली कई घंटों तक बंद रही, जिससे इस गर्मी के मौसम में लोगों को काफी तकलीफ का सामना करना पड़ा. जिन किसानों ने अभी तक बुआई शुरू नहीं की है वे अभी भी अच्छी और दमदार बारिश का इंतजार कर रहे हैं. 

    अकोट में किसानों को  बारिश का इंतजार

    संवाददाता से प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोट के किसानों को अभी भी बुआई के लिए दमदार बारिश का इंतजार है. रविवार को अकोट में बारिश दर्ज नहीं की गयी है. अकोट तहसील में अभी भी सभी किसानों ने बुआई शुरू नहीं की है. यहां किसानों का ध्यान लगातार आसमान की ओर लगा हुआ है कि कब दमदार बारिश होती है और बुआई शुरू की जाती है. यहां किसानों ने बीज, खाद से लेकर बुआई की सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं. अब किसानों को सिर्फ अच्छी बारिश का इंतजार है. 

    पातुर में अच्छी स्थिति

    संवाददाता से प्राप्त जानकारी के अनुसार पातुर तहसील में किसानों ने करीब 50 प्रश के लगभग बुआई पहले ही कर ली थी लेकिन पिछले काफी दिनों से बारिश न होने के कारण फसलों की स्थिति बिगड़ रही थी. रविवार को हुई अच्छी बारिश के कारण उन फसलों को जीवनदान मिला है. अब जिन किसानों ने बुआई अब तक नहीं की थी वे किसान अब बुआई करने में लग गए हैं. इस तरह किसानों का संकट काफी हद तक दूर हो गया है. 

    मुर्तिजापुर में स्थिति ठीक

    मुर्तिजापुर संवाददाता के अनुसार मुर्तिजापुर तहसील में हुई बारिश के कारण स्थिति अच्छी है. यहां पर भारतीय जैन संगठन द्वारा नालों का गहराइकरण किया गया था. यहां पर बारिश के कारण उन नालों में भी काफी पानी आ गया है. अकोला जिले के पालकमंत्री बच्चू कडू द्वारा दत्तक लिए गए गांव राजनापुर खिनखिनी में कई विकास कार्य शुरू हैं. यहां जिन नालों को साफ कर के गहरा किया गया था उन नालों में काफी पानी आ गया है. यहां भी अब किसानों की बुआई में तेजी आने की जानकारी मिली है. 

    बार्शीटाकली में अच्छी बारिश

    प्राप्त जानकारी के अनुसार बार्शीटाकली तहसील में रविवार को 18.5 मि.मी. बारिश हुई है. यहां पर अब तक 40 से 50 प्रश किसानों ने बुआई पूरी कर ली थी. उन फसलों को इस बारिश से जीवनदान मिला है. अब बाकी सभी किसानों ने अपनी बुआई के काम शुरू कर दिए हैं. रविवार को हुई बारिश के कारण किसान काफी हर्षित देखे जा रहे हैं.

    तेल्हारा में किसानों को बारिश का इंतजार

    तेल्हारा तहसील में अभी तक बहुत ही कम प्रमाण में बुआई हुई है. रविवार की शाम तेल्हारा में बारिश नहीं हुई. इस तरह तेल्हारा के किसानों को बुआई शुरू करने के लिए अच्छी बारिश का इंतजार है. किसानों का ध्यान इसी ओर लगा हुआ है कि कब अच्छी बारिश होती है और बुआई का काम शुरू होता है.