Wardha Corona: Nurse's sleep turns out to be positive

  • आज और 1 कोरोना वायरस संक्रमित मरीज की मौत
  • पॉजिटिव मरीजों की संख्या पहुंची 341 तक
  • अस्पताल में 129 मरीजों पर उपचार शुरू
  • अस्पताल से 191 मरीजों को डस्चिार्ज
  • अब तक 21 कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की मौत

अकोला. अकोला में अब परस्थितिि बिकट होते जा रही है. कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या में दिन प्रतिदिन वृध्दि हो रही है. गुरुवार 21 मई को सरकारी मेडिकल कालेज व सर्वोपचार अस्पताल की ओर से 173 संदग्धि मरीजों की रिपोर्ट प्राप्त हुई. जिसमें 140 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव तथा 33 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से अब अकोला जिले में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 341 तक पहुंची है. अभी 129 कोरोना वायरस संक्रमित सक्रिय मरीजों पर सर्वोपचार अस्पताल में उपचार शुरू है.

पॉजिटिव मरीजों में 19 पुरुष व 14 महिलाओं का समावेश है. जिसमें 4 सोनटक्के प्लॉट पुराना शहर, 4 जोगलेकर प्लॉट डाबकी रोड़, 3 रेलवे कालोनी जठारपेठ, 3 डाबकी रोड़, 2 फिरदौस कालोनी, 2 नायगांव तथा बाकी रेवती नगर बालापुर नाका डाबकी रोड़, देशमुख फैल, अकोट फैल, सावंतवाडी, सिविल लाइन, पुराना शहर, लक्कड़गंज रामदास पेठ, मोमीनपुरा, आम्बेडकर नगर, रजपुतपुरा, ज्योति नगर सिविल लाइन, न्यू राधाकिसन प्लॉट, गोरक्षण रोड़, बाढ़ पीड़ित कालोनी अकोट फैल, लक्ष्मी नगर के निवासियों का समावेश है. बुधवार 20 मई की देर रात भीम चौक अकोट फैल निवासी 68 वर्षीय मरीज की उपचार के दौरान मौत हो गई.

यह मरीज 18 मई को अस्पताल में दाखिल हुआ था. बुधवार की देर रात 24 मरीजों को डस्चिार्ज दिया गया है. जिसमें से 21 मरीज कोवीड केअर सेंटर में निरीक्षण में है तथा 3 मरीजों की घर पर रवानगी की है. डस्चिार्ज मरीजों में 4 अकोली गीता नगर, 4 आम्बेडकर नगर, 3 भीम चौक अकोट फैल, 2 भवानी पेठ तारफैल तथा बाकी फिरदौस कालोनी, डाबकी रोड़, अकोट फैल, खोलेश्वर, रंगारहट्टी बालापुर, सुभाष चौक, नेहरु नगर, खदान, सिविल लाइन, खैर मोहम्मद प्लॉट, रामदास पेठ पुलिस क्वार्टर के निवासियों का समावेश है.

कोरोना वायरस से अब तक 21 मरीजों की मौत होकर जिसमें से एक ने आत्महत्या की है. अब तक कुल 191 मरीजों को उपचार के बाद ठीक होने पर डस्चिार्ज दिया गया है. अभी 129 पॉजिटिव मरीजों पर उपचार शुरू है. इस दौरान बुधवार को पॉजिटिव पाई गई अकोट तहसील के ग्राम अड़गांव खु. निवासी महिला की रविवार 17 मई को सरकारी मेडिकल कालेज के अस्पताल में प्रसुत हुई थी. वह प्रसुती के लिए उसके मायका भीम चौक अकोट फैल में आई थी. उसके ससुराल व मायके के लोगों के गले के स्वैब के नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गए है. यह जानकारी सरकारी मेडिकल कालेज के सूत्रों ने दी है.