मनपा ने शुरू किया अतिक्रमण हटाना

    • शहर के सभी क्षेत्रों में हॉकर्स जोन का निर्माण करवाए मनपा
    • तभी मिलेगी स्थायी रूप से अतिक्रमण से मुक्ति

    अकोला. शहर में मुख्य मार्गों के साथ साथ कोई क्षेत्र ऐसा नहीं है जहां पर अतिक्रमण न हो. यह उल्लेखनीय है कि अकोला मनपा में अतिक्रमण विभाग कार्यरत है. इसके बावजूद शहर में अतिक्रमण चरम सीमा पर है. शहर के मुख्य बाजारपेठ क्षेत्रों में तो मुख्य मार्ग संकरे होकर रह गए हैं. स्थानीय महात्मा गांधी रोड, तिलक रोड, पुराना कपड़ा बाजार रोड, जैन मंदिर रोड, मोहम्मद अली रोड, ओपन थिएटर रोड इसी तरह पुराना शहर के अनेक मुख्य मार्गों की भी यही स्थिति है. मुख्य बाजारपेठ क्षेत्रों में स्थायी अतिक्रमण कम हैं. अस्थायी अतिक्रमण बहुत अधिक हैं. इन अस्थायी अतिक्रमण में हाथगाड़ी वालों के साथ साथ सड़कों पर बैठ कर सामान बेचनेवालों की भरमार है. एक तरफ से मनपा द्वारा अतिक्रमण हटाया जाता है. थोड़े समय में ही दूसरी तरफ से यह लोग फिर से अतिक्रमण कर लेते हैं. 

    बाजारों में चलना हुआ मुश्किल

    स्थानीय महात्मा गांधी रोड तथा ओपन थिएटर रोड, जैन मंदिर रोड आदि मुख्य बाजारपेठ क्षेत्रों में तो अब यह स्थिति हो गयी है कि कार तो चलाना मुश्किल ही है. दुपहिया वाहनों के साथ साथ अब तो पैदल चलनेवालों को भी रुकावट उत्पन्न हो रही है. सड़कों पर इतनी भीड़ रहती है, उस पर अस्थायी दुकानों की भीड़ भी बढ़ गयी है. अतिक्रमण कई बार हटाए गए हैं लेकिन फिर भी कोई लाभ नहीं हुआ है. 

    हाल ही में मनपा ने हटाया अतिक्रमण

    अकोला मनपा की नयी आयुक्त नीमा अरोरा के आदेश से जनता बाजार, बस स्टैंड, काला चबूतरा, जठारपेठ आदि कई क्षेत्रों के अतिक्रमण हटाए. विशेष रूप से सड़कों पर बैठने वाले, दुकानें लगाने वाले अस्थायी अतिक्रमण हटाए गए. प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्य बाजार पेठ में सड़कों पर दुकानें लगाने वाले दुकानदारों को हिदायत दी गयी थी कि वे अपनी दुकानें भाटे ग्राउंड में लगाएं. लेकिन इसके बावजूद सभी मुख्य मार्गों पर अतिक्रमण कम नहीं हुआ था. मनपा प्रशासन का काम है कि पहले सभी दुकानदारों को वहां ठीक तरह से शिफ्ट करवाएं उसके बाद अतिक्रमण की कार्रवाई शुरू करें. शहर के लोगों को नयी मनपा आयुक्त से काफी अपेक्षाएं हैं. 

    सभी क्षेत्रों में हॉकर्स जोन जरूरी

    सिर्फ भाटे ग्राउंड में हॉकर्स जोन बनाने से सभी हॉकर्स की समस्या का समाधान नहीं हो सकता है. शहर के प्रत्येक क्षेत्रों में हॉकर्स जोन का निर्माण किया जाना चाहिए. यदि महानगर के मुख्य बाजारपेठ के साथ साथ सभी क्षेत्रों में हॉकर्स जोन का निर्माण किया जाता है तो अतिक्रमण की समस्या से तो मुक्ति मिलेगी ही इसके साथ साथ शहर के सभी मार्ग चौड़े हो जाएंगे और यातायात प्रभावित नहीं हो सकेगा. 

    मनपा आयुक्त से सभी क्षेत्रों में हॉकर्स जोन की मांग

    शहर के लोगों ने नवनियुक्त मनपा आयुक्त नीमा अरोरा से मांग की है कि शहर में हॉकर्स जोन के निर्माण की मांग कई सालों से प्रलंबित है. यदि शहर के सभी क्षेत्रों में हॉकर्स जोन का निर्माण हो जाता है तो मुख्य मार्गों पर छोटी छोटी दुकानें लगाकर विविध वस्तुएं बेचनेवालों को जगह मिल जाएगी और मुख्य मार्गों का अतिक्रमण भी हट जाएगा.

    इसी तरह इन छोटे छोटे दुकानदारों को रोजी रोटी के लिए विकल्प भी मिल जाएगा क्योंकि शहर में बड़ी संख्या में लोग ऐसे हैं जो मुख्य मार्गों पर छोटी छोटी दुकानें लगाकर अपना उदर निर्वाह करते हैं. आए दिन अतिक्रमण हटाने से इन छोटे छोटे दुकानदारों का काफी नुकसान भी होता है. यदि इन्हें हॉकर्स जोन में जगह मिल जाएगी तो इनकी समस्या भी हल हो जाएगी. मनपा का काम है कि हॉकर्स जोन के निर्माण के बाद इन लोगों को मुख्य मार्गों पर दुकानें लगाने से रोकें.