7 माह से बंद न्यू तापड़िया नगर उड़ान पुल का काम अब हुआ शुरू

  • तेज गति से उड़ान पुल का निर्माण कार्य शीघ्र करने की मांग

अकोला. लाकडाउन के कारण कई विकास कार्य रोक दिए गए थे. उसी के अंतर्गत बिरला रेलवे गेट से न्यू तापड़िया नगर इस उड़ान पुल का काम करीब 7 माह से अधिक समय तक बंद रहा. उसके बाद अक्टूबर तक कामगार न मिलने के कारण इस उड़ान पुल का काम रूक गया था. अब इस उड़ान पुल का कार्य शुरू किया गया है. प्राप्त जानकारी के अनुसार जिस गति से यह कार्य शुरू है, उसके अनुसार इस पुल के निर्माण को करीब दो वर्ष और लग सकते हैं. यह जानकारी संबंधितों द्वारा प्राप्त हुई है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार शारदा कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा इस पुल का निर्माण कार्य किया जा रहा है. गायगांव मार्ग उड़ान पुल के समान ही इस काम में भी रेलवे का सहभाग है. रेलवे लाइन, विद्युत लाइन आदि कुछ कठिनाइयों का भी सामना करना पड़ रहा है. यह काम 17 करोड़ की लागत से हो रहा है. कुछ कार्यों की निविदा निकलना बाकी है उसके बाद ही सही इस्टिमेट मिल सकेगा. 

इस पुल में 17 पिअर्स

बिरला राम मंदिर के सामने से न्यू तापड़िया नगर तक यह पुल बनाया जा रहा है. इस काम में 17 पिअर्स (पोल) हैं. जिसमें से 6 पोल बिरला की साइड से, 4 रेलवे के अंतर्गत क्षेत्र में तथा 7 न्यू तापड़िया नगर की तरफ से रहेंगे. न्यू तापड़िया नगर की साइड से 3 पिअर्स पर गर्डर डाले गए हैं तथा बिरला की ओर से सेंट्रिंग का काम शुरू है. शीघ्र ही गर्डर डाले जाएंगे. 

3 मीटर के सर्विस रोड

बिरला राम मंदिर के सामने दोनों ओर से 3 मीटर के सर्विस रोड बनाए जाएंगे. नालियों का काम शुरू है. बारिश के पहले आरई वॉल का काम पूर्ण होगा. उस दृष्टि से कामों को गति दी जा रही है. 

एप्रोच रस्ते का काम शुरू

न्यू तापड़िया नगर के बाजू से जहां पुल उतरेगा, वहां एप्रोच रस्ते का काम भी तेज गति से शुरू है. उस रास्ते पर फिलहाल मुरूम डाला गया है. पुल के साथ साथ रस्ते का काम भी तेज गति से चल रहा है. सभी लोग चाहते हैं कि यह कार्य शीघ्र पूरा हो.

काफी महत्वपूर्ण है यह उड़ान पुल

बिरला रेलवे गेट से न्यू तापड़िया नगर तक यह उड़ान पुल बहुत महत्वपूर्ण है. जिसका मुख्य कारण जब भी इस रेलवे गेट में स्थित रेलवे ट्रैक से कोई ट्रेन गुजरती है रेलवे गेट बंद कर दिया जाता है और लोगों को काफी समय तक ट्रेन निकलने का इंतजार करना पड़ता है. इस तरह लोगों को आवागमन में काफी तकलीफ होती है. सभी लोगों की मांग है कि इस उड़ान पुल का कार्य शीघ्र पूरा किया जाए.

जिससे आने जाने में लोगों को राहत मिल सके. इस उड़ान पुल के निर्माण हेतु अकोला के सांसद तथा केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री संजय धोत्रे, विधायक गोवर्धन शर्मा, विधायक रणधीर सावरकर लगातार प्रयत्नशील थे तब जाकर यह निर्माण कार्य शुरू किया जा सका है.