जिले में बकरी ईद की नमाज घर पर ही अदा करें

  • संभवता प्रतिकात्मक कुर्बानी देकर बकरी ईद सादगी से मनाएं
  • जिलाधिकारी जीतेंद्र पापलकर ने किया आहवान

अकोला. जिले के नागरिकों को शनिवार को बकरी ईद का त्यौहार कोरोना संक्रमण व लाकडाउन से बकरी ईद की नमाज घर पर ही अदा करें, प्रतिकात्मक कुर्बानी देकर बकरी ईद सादगी से मनाने का आहवान जिलाधिकारी जीतेंद्र पापलकर ने किया है. इस संदर्भ में सरकार के गृहविभाग ने जारी किए परिपत्र द्वारा निर्देशीत किए मार्गदर्शक सूचनाओं का पालन कर संबंधित यंत्रणाओं ने उपाय योजना व कार्रवाई करने के निर्देश संबंधित यंत्रणा प्रमुख को दिए है. उसके अनुसार सभी संबंधित यंत्रणाओं की बैठक का आयोजन जिलाधिकारी के कक्ष में किया गया था.

बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी  डा. सुभाष पवार, जिला उपायुक्त पशुसंवर्धन डा. तुषार बावणे, जिला पशुसंवर्धन अधिकारी डा. हरिप्रसाद मिश्रा, उपप्रादेशिक परिवहन अधिकारी विनोद जिचकार, मनपा उपायुक्त  पुनम कलंबे, सहायक आयुक्त जिला पशुवैद्यकीय चिकित्सालय डा, नम्रता बाभुलकर, पशुधन विकास अधिकारी डा. कोमल काले, डा. वैभव पटेल, डा. आर. बी सोनोने, जिला विशेष शाखा के पुलिस निरीक्षक सोलंके, महाराष्ट्र  प्रदुषण नियंत्रण मंडल के पी.एम. मेसारे, परिवहन अधिकारी समीर ढेमरे व दत्रात्रय कदम आदि उपस्थित थे. इस अवसर पर बकरी ईद की पार्श्वभूमि पर जिले का नियोजन प्रस्तुत किया गया.

तथा महाराष्ट्र जानवर संरक्षण कानून 1976 व महाराष्ट्र जानवर सुरक्षा (सुधारणा) कानून 1995, जानवर परिवहन अधिनियम 1978 इस कानून की प्रभावी रुप से अमल करने के निर्देश दिए गए है. इस संदर्भ में जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार के गृह विभाग ने दिए निर्देश के अनुसार सभी धार्मिक कार्यक्रमों पर पाबंदी है. जिससे बकरी ईद की नमाज यह मस्जिद, ईदगाह व सार्वजनिक स्थान पर अदा न करते हुए लोगों ने घर पर ही अदा कर संभवता प्रतिकात्मक कुर्बानी करे. इस अवधि में प्रतिबंधात्मक क्षेत्र में लागू होनेवाले प्रतिबंध कायम रहेंगे व उसमें कोई भी छुट नही दी गई है. बकरी ईद निमित्त लोगों ने सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ न करें व इकठ्ठा न जमें. सरकारी नियमों का पालन करें. जिले में 28 परिवहन जांच नाके होकर वहां पर पशुधन पर्यवेक्षकों की नियुक्ति तीन दिनों के लिए की गई है. तथा प्रत्येक तहसील के लिए एक संनियंत्रण अधिकारी व पर्यवेक्षक अधिकारी की भी नियुक्ति की गई है. इसके अलावा पुलिस दल व परिवहन विभाग के अधिकारी भी इस पथक में सहभागी होंगे.