जालना के शिवराज नारियलवाले के साथ, पुलिस द्वारा की गयी मारपीट

    • दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग
    • एसपी को दिया निवेदन 

    अकोला. जालना में अहीर गवली समाज के कार्यकर्ता शिवराज नारियलवाले के साथ पुलिस ने बहुत ही अमानवीय तरीके से मारपीट की यह घटना वहां के दीपक हॉस्पिटल में घटी. शिवराज अस्पताल में अपनी बहन के उपचार के लिए गए थे. इसी बीच गवली समाज के एक युवक की दुर्घटना में मौत हो गयी. उसी समय वहां उपस्थित कुछ पुलिस कर्मी गवली समाज के बारे में गलत शब्दों का उपयोग कर रहे थे, उसकी रिकार्डिंग शिवराज नारियलवाले ने अपनी मोबाइल में कर ली.

    यह देखते ही पुलिस कर्मियों ने शिवराज की बहुत ही अमानवीय तरीके से जमकर पिटाई की, सिर पर भी वार किए. पुलिस ने धमकी दी की गवली समाज के विषय में पुलिस कर्मियों ने जो कहा है वह वीडियो बाहर न निकालें. इसके बाद वह डीवाईएसपी एटा सिटी के एक मामले में रिश्वत लेते हुए पकड़े गए.

    इस मामले में पुलिस कर्मियों को सिर्फ निलंबित किया गया जबकि दोषी कर्मियों को नौकरी से बर्खास्त किया जाना चाहिए. इस मांग का एक निवेदन आज अकोट के पूर्व नगराध्यक्ष रामचंद्र बरेठिया, शिवसेना के जिला सचिव प्रदीप गुरूखुद्दे, अकोट के पूर्व पार्षद गणेश बरेठिया ने अकोला के पुलिस अधीक्षक जी.श्रीधर को दिया. 

    अमानवीय मारपीट का वीडियो वायरल

    जालना में कई पुलिस कर्मियों द्वारा मिलकर हॉस्पिटल में शिवराज नारियलवाले के साथ जो अमानवीय मारपीट की गयी है वह वीडियो देश भर में वायरल हो गया है. पुलिस अधिकारी और कई पुलिस कर्मी मिलकर जिस बेरहमी के साथ मारपीट कर रहे हैं उस वीडियो में स्पष्ट दिखाई दे रहा है. इसलिए पुलिस विभाग ने भी इस प्रकरण को बहुत गंभीरता से लिया है.