Three level interchange on highway - vector illustration
Three level interchange on highway - vector illustration

    • कृति समिति ने दी धरना आंदोलन की सूचना

    अकोला. स्थानीय अलसी प्लाट स्थित पुराने मिनी बायपास पर स्थित दक्षता नगर से एनसीसी कार्यालय तक उड़ान पुल का निर्माण कार्य वर्तमान में विवादों में घिरा है. क्षेत्र के निवासियों ने काम के खिलाफ विरोध करना शुरू कर दिया है क्योंकि योजना के अनुसार काम नहीं हो रहा है. यदि कार्य नियमानुसार नहीं किया जाता है, तो हम कार्य के खिलाफ जनहित याचिका दायर करेंगे, यह सूचना उड़ान पुल विरोधी कृति समिति के सुनील अजमेरा ने शनिवार को आयोजित पत्र परिषद में दी.

    दोनों तरफ कम रैम कर दिया जाने से इतनी कम जगह में उड़ान पुल का काम नहीं किया जा सकता है. जगह की कमी यातायात के मुद्दे को उठाने वाली है. सुनील अजमेरा ने कहा कि, इस क्षेत्र के निवासियों के लिए यह सिरदर्द होगा इस लिए हम विरोध कर रहे हैं. इसके अलावा भले ही काम पिछले तीन दिनों से रुका हुआ है, हम तब तक इसे जारी रखने की अनुमति नहीं देंगे जब तक हम संतुष्ट नहीं हो जाते. उड़ान पुल का निर्माण कार्य दक्षता नगर से एनसीसी के बीच हो रहा है.

    इसका एक रैम्प नागपुर की ओर जानेवाले मार्ग पर तथा दूसरा रैम्प बालापुर की ओर जानेवाले मार्ग पर उतरेगा. नक्शे के अनुसार रैम्प के दोनों तरफ ए-वन स्तंभ हैं और उड़ान पुल का रैम्प एनसीसी कार्यालय के पास उतरेगा. मैप में बताए अनुसार सर्विस रोड बाईं ओर 4.5 मीटर और दाईं ओर 3.75 मीटर होने की उम्मीद है. लेकिन वास्तविक माप के अनुसार, बाईं ओर का स्थान 3.3 मीटर और दाईं ओर 2.3 मीटर है. इतनी कम जगह से वाहन कैसे गुजर सकते हैं.

    इसी तरह डा.नाईक अस्पताल की ओर जो मार्किंग की गयी है वहां तक 9 मीटर जगह छोड़ी गयी है, ऐसा बताया गया था. लेकिन प्रत्यक्ष में 6 मीटर ही जगह छोड़ी हुई दिखाई दे रही है. जिसके कारण जाईजुई अपार्टमेंट के निवासियों का इसके लिए विरोध है. यदि यहां कोई दुर्घटना होती है, तो वाहन को मोड़ने का कोई रास्ता नहीं होगा. खदान पुलिस स्टेशन के पास खंभे पर भी कम जगह है. पहला पिलर एक फिट अंदर की ओर आने से कठिनाई होगी. लोगों के घरों के सामने 12 फिट उंची दीवार आने से लोगों में असंतोष फैल रहा है. इसलिए अवैध काम बंद करने की मांग की गयी है.

    यह भी आरोप लगाया गया था कि राजमार्ग प्रणाली ने किसी पर भरोसा किए बिना गलत डीपीआर तैयार किया था. उड़ान पुल की दोनों ओर निवासी स्थान हैं. यातायात का परिणाम निवासियों पर होने से भविष्य में इस संकरे स्थान से वाहन निकालना मुश्किल होगा. इस समस्या को देखते हुए उड़ान पुल के खिलाफ धरना आंदोलन की सूचना कृति समिति द्वारा दी गयी है.

    इस अवसर पर उड़ान पुल कृति समिति द्वारकादास चांडक, संतोष अग्रवाल, बी.एस. देशमुख, राजेश चांडक, राधेश्याम चांडक, जोशी, कपिल बाजोरिया, राहुल अजमेरा, विनोद मोटवानी, रमण मानधने, सनी वाधवानी, राजेश राठी, उमेश शुक्ला, डा.चंदन मोटवाणी, रमण मानधने, सुधाकर छबीले, पुरुषोत्तम चांडक आदि उपस्थित थे.