अकोला से पूर्णा के बीच मेमू ट्रेन शुरू करें, भाजपा की मांग

    • दक्षिण मध्य रेल विभाग के जीएम ने लिया जायजा 

    अकोला. दक्षिण मध्य रेलवे के महाप्रबंधक गजानन माल्या गुरुवार की सुबह अकोला पहुंचे. इस अवसर पर उनके साथ दक्षिण मध्य रेल विभाग के डीआरएम उपेंद्र कुमार, स्टेशन प्रबंधक खापेकर, आरपीएफ अधिकारी परमवीर सिंह, मिर्धा प्रमुखता से उपस्थित थे. महाप्रबंधक गजानन माल्या ने अकोला से पूर्णा मार्ग, रेलवे स्वास्थ्य केंद्र, प्लेटफार्म नं.6 पर उपरोक्त सुविधाओं का निरीक्षण किया और अधिकारियों को कार्यों के संदर्भ में उपयुक्त निर्देश दिए.

    इस अवसर पर भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने अकोला से पूर्णा के बीच मेमू विशेष ट्रेन चलाने की मांग की. महाप्रबंधक गजानन माल्या रेलवे स्टेशन पर निरीक्षण कर जायजा लेने के बाद नांदेड के लिए रवाना हुए. इस बीच उन्होंने अकोला से पूर्णा के दरम्यान विद्युतीकरण कार्य का भी निरीक्षण किया.

    महाप्रबंधक से मिला भाजपा का शिष्ट मंडल 

    पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री, सांसद संजय धोत्रे के सुझाव पर भाजपा का प्रतिनिधिमंडल महाप्रबंधक गजानन माल्या से मुलाकात की. इस अवसर पर प्रतिनिधि मंडल ने अकोट-खंडवा, अकोट-पूर्णा तथा दक्षिण भारत के लिए अकोट से ट्रेनें शुरू करने, अकोला स्टेशन पर हनुमान मंदिर के पास यात्री पुल का विस्तार तथा न्यू तापड़िया नगर में फ्लाईओवर, अकोला-खंडवा मार्ग पर वन विभाग से जुड़ी समस्याओं का समाधान किया जाए आदि के संदर्भ में चर्चा की गयी.

    इसी के साथ अकोला से पूर्णा तक मेमू रेलवे शुरू करने की मांग की गयी. यह ट्रेन शुरू होने से इसका लाभ हिवरखेड़, अकोट, अंजनगांव, संग्रामपुर, मेलघाट, तेल्हारा, जलगांव जामोद, अचलपुर क्षेत्र के किसान, व्यापारी और प्रवासियों को होगा. मेमू ट्रेन शुरू करने की मांग दक्षिण मध्य रेलवे सलाहकार समिति के सदस्य बसंत बाछुका के नेतृत्व में भाजपा के प्रतिनिधि मंडल ने की है. इस अवसर पार्षद गिरीश जोशी, संजय जिरापुरे, एड.सुभाषसिंग ठाकुर आदि उपस्थित थे. महाप्रबंधक गजानन माल्या ने इस अवसर पर ट्रेन शुरू करने पर विचार करने का आश्वासन प्रतिनिधि मंडल को दिया. 

    जनप्रतिनिधियों, संगठनों को मिलने की अनुमति नहीं

    रेलवे की समस्या के समाधान के लिए महाप्रबंधक से मिलने आए जनप्रतिनिधियों व संगठनों के प्रतिनिधियों को मिलने नहीं दिया गया. भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने इसका विरोध किया. इस मामले को वरिष्ठ स्तर पर उठाए जाने की जानकारी इस अवसर पर दी गयी. 

    सेवानिवृत कर्मचारी स्वास्थ्य केंद्र से नाखुश

    अकोला स्वास्थ्य केंद्र में हो रही असुविधा पर सेवानिवृत्त रेल कर्मचारियों ने नाराजगी जताई. उन्होंने आरोप लगाया कि यहां डॉक्टर उपलब्ध नहीं थे और आवश्यक समय पर सुविधाएं उपलब्ध नहीं थीं.