Rain

अकोला. अकोला महानगर को जलापूर्ति करने वाले समीपी ग्राम महान स्थित काटेपूर्णा बांध प्रकल्प के जलभंडारण की स्थिति को देखते हुए पानी की निकासी की जाएगी, यह जानकारी प्रकल्प के अभियंता नीलेश घारे ने दी है. बुधवार को काटेपूर्णा बांध प्रकल्प के चार गेट 1 फीट तक खोले गए थे. जिसमें से 96.44 मीटर प्रति सेकंड पानी छोड़ा गया था. गुरुवार की सुबह 4 बजे 2 गेट और 7 बजे 2 गेट बंद कर दिए गए. अकोला महानगर सहित जिले में तथा वाशिम जिले के काटेपूर्णा बांध के जलग्राही क्षेत्रों में भी रुक-रुक कर बारिश शुरू है. बांध में पानी बढ़ जाता है तो पानी की निकासी की जाएगी.

इस संदर्भ में नदी किनारे बसे गांवों के लोगों को सर्तक रहने के आदेश दिए गए है. यह जानकारी अभियंता घारे ने दी है. उन्होंने बताया कि वर्तमान समय में काटेपूर्णा बांध में 85 प्रश से अधिक जलभंडारण उपलब्ध है. यदि यह बढ़ जाता है तो पानी की निकासी करना आवश्यक होगा. संबंधित अधिकारी, मंडल अधिकारी, पटवारी, ग्रामसेवक, कृषि सहायक, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों को मुख्यालय में उपस्थित रहने के आदेश जिलाधिकारी जीतेंद्र पापलकर द्वारा दिए गए हैं. 

24 घंटों में 15.7 मिमी. बारिश
अकोला महानगर में रुक रुक कर हल्की, भारी बारिश कुछ समय के लिए विविध भागों में हो रही है. गुरुवार की सुबह 8 बजे तक पिछले 24 घंटों में अकोला जिले में 15.7 मि.मी. औसत बारिश हुई है. बुधवार के दिन दिनभर रिमझिम बारिश होती रही. गुरुवार की सुबह से ही रिमझिम व हल्की बारिश शुरू है. अकोला जिला प्रशासन द्वारा सतर्कता की सूचना दी गई है तथा आपातकालीन परिस्थिति में उपाययोजनाएं भी की गई है.