नये कृषि कानून से किसानों को उनके उत्पादन की कीमत तय करने का अधिकार मिला – डा. अनिल बोंडे

अकोला. किसानों को उनके उत्पादन की जो कीमत चाहिए वह कीमत तय करने का अधिकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्ववाली भाजपा सरकार ने किसानों को देकर किसानों को एक प्रकार से न्याय दिलाया है. यह अधिकार उन्हें नये कृषि कानून से मिला है. यह विचार राज्य के पूर्व मंत्री तथा भाजपा किसान आघाड़ी के प्रदेशाध्यक्ष डा. अनिल बोंडे ने प्रकट किए.

केंद्रीय राज्यमंत्री संजय धोत्रे के नेतृत्व में अकोला जिला भाजपा व भाजपा शेतकरी आघाड़ी की ओर से निंबा फाटा में आज दोपहर आयोजित ट्रैक्टर रैली के शुभारंभ कार्यक्रम में वे किसानों की सभा को संबोधीत कर रहे थे. कार्यक्रम में अध्यक्ष के रुप में जिला भाजपा के अध्यक्ष विधायक रणधीर सावरकर उपस्थित थे. उन्होंने स्पस्ट किया कि किसानों को अब इस बात की पहचान हो गई है कि कौन सच्चा है और कौन झूठा है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अब सभी जाति और धर्मो को समर्थन मिल रहा है. जिसके कारण विरोध करनेवाले परेशान हो गए हैं, लेकिन सत्य सत्य ही रहता है. कुछ लोग प्रधानमंत्री व राज्यपाल महोदय के विषय में अपशब्द का उपयोग करके अपनी मनोवृत्ति प्रगट कर रहे हैं. यह आरोप भी डा. अनिल बोंडे ने लगाया है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नये कृषि कानून को राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार ने स्थगिति प्रदान की है. सिर्फ राजनीति के कारण किसानों को तकलीफ दी जा रही है.

इस अवसर पर नये ट्रैक्टर का पूजन करके किसानों का सम्मान किया गया. विधायक रणधीर सावरकर ने भी अपने विचार प्रकट किए. इस कार्यक्रम में भाजपा नेता तेजराव थोरात, पूर्व महापौर विजय अग्रवाल, श्यामराव शेलार, श्रीकृष्ण मोरखडे, अमर साबले, जयंत मसने, माधव मानकर, ललित समदूरकर, विलास पोटे, रामदास लांडे, अशोक गावंडे, राजेश नागमते, राजेश रावलकर, महेंद्र पेजावर, योगेश पटोकार, दिलीप सांगले, डा. शंकरराव वाकोडे, आनंद ठाकरे के साथ साथ बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता, किसान उपस्थित थे.