फसल पर वायरस व इल्लियों का प्रकोप

    अकोला. जिले में खरीफ की फसल पर वायरस व इल्लियों का प्रकोप बढ़ा है. जिससे फसल खराब होने की स्थिति में है. फसल पर वायरस व इल्लियों के हमले से किसान पर फिर से संकट आया है. खरीफ फसल की मूंग की फसल पर लिफ क्रिनकल वायरस ने हमला किया है. तथा कपास की फसल पर बोंड इल्लियों ने हमला किया है. जिससे किसानों की खरीफ फसल पर संकट आया है. 

    मूंग की फसल पर लिफ क्रिनकल वायरस का हमला

    जिले की अकोला, अकोट व तेल्हारा तहसील में मूंग की फसल पर लिफ क्रिनकल वायरस ने हमला किया है. जिससे मूंग उत्पादक किसानों पर फिर से संकट आने की संभावना व्यक्त की जा रही है. जिले में ग्राम केलीवेली, गणोरी, आपोती, आपातापा, घुसर, दहिहांडा, पाटेगांव, हिंगणीन, मनब्दा, दापुरा, पनाला, मंचनपुर, येवदा आदि के खेत खलियान में वायरस का संक्रमण पाया गया.

    मूंग की फसल की बुआई होकर 30 से 35 दिनों का अवधि हो गया है. एक माह के भीतर ही मूंग की फसल पर वायरस का संक्रमण बढ़ने से किसान दहल गया है. पिछले वर्ष भी इस परिसर में बड़े पैमाने पर लिफ क्रिनकल वायरस का संक्रमण पाया गया था.

    कपास की फसल पर बोंड इल्ली का हमला

    जिले की तेल्हारा तहसील में इस बार की खरीफ की मानसून पूर्व कपास की फसल पर बोंड इल्लियों ने हमला किया है. कपास फसल की फूलपत्ते पर बोंड इल्ली दिखाई दे रही है. जिससे किसानों पर फिर से एकबार संकट निर्माण हो गया है. किसानों ने औषधि का छिड़काव करने पर भी कोई लाभ नहीं हुआ है. पिछले 4 से 5 वर्ष से इस फसल पर बोंड इल्लियां हमला कर फसल खराब कर रही है. जिससे किसान हताश हो गया है.