Bad condition in the corona infected hospitals, patients said conspiracy to cure the good

अमरावती. जिला अनलाक होने के बाद देश विदेशों के नागरिकों को अपने घर लौटने के लिए कुछ नियमों व शर्तों के आधार पर राहत दी गई थी. आनलाइन ई पासेस के माध्यम से देश विदेशों से कई लोग अमरावती में दाखिल हुए. 10 मई से 30 अगस्त के दौरान जिले में 189 नागरिक विदेश से लौटे है जिन्हें अलग अलग संस्थाओं में क्वारंटाइन होने के आदेश दिये है. अभी तक अमेरीका, दुबई, शाहरजा, तुर्कीस्थान, कुवेत, लंडन, अबुदाबी, न्युयार्क, दमन विदेशों से लोग शहर में दाखिल हुए.  

होम क्वारंटाइन की मिलेगी सुविधा
विदेश से वापस लौटे इस नागरिकों की प्रथम वैद्यकीय जांच की गई. जिन व्यक्तियों में कोरोना के लक्षण दिखाई दिये उन्हें थ्रोट स्वैब के लिए कहां गया. लक्षण नहीं रहनेवाले जिले के विभिन्न क्वांरटाईन सेंटर में क्वारंटाइन होने के आदेश दिये है. नागरिकों में से जो व्यक्ति विकलांग, छोटे बच्चे व बुजूर्ग है उन्हें होम क्वारंटाइन की सुविधा देने का निर्णय जिला प्रशासन ने लिया है. उसके अनुसार ही दस्तावेजों की प्रक्रिया शुरु की गई है.