संभाग में 32,179 हे. में फसल क्षति, 5 जिलों की 32 तहसीलों में नुकसान

    • बेमौसम बारिश से फसलें चौपट

    अमरावती. खरीफ की तरह रबी की फसलें भी बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि का शिकार हो रही है. बीते सप्ताह 17 से 21 मार्च तक हुई बारिश ने भी संभाग में कहर बरपाया है. जिसमें खेतों में खडी तथा काटकर रखी फसलें जैसे चना, गेहूं, प्याज आदि का काफी नुकसान हुआ है. उसी प्रकार संतरा बागों को भी काफी क्षति हुई है. संभागीय आयुक्तालय से प्राप्त प्राथमिक नुकसान रिपोर्ट के अनुसार पांचों जिलों की 32 तहसीलों में 32,179.23 हेक्टेयर फसलें चौपट हुई है.

    सर्वाधिक नुकसान मुख्यालय में 

    संभागीय मुख्यालय अमरावती जिले की 10 तहसीलों में सर्वाधिक 14,994.70 हेक्टेयर नुकसान दर्ज किया गया है. उसी प्रकार बुलढाणा जिले के 9 तहसीलों में 7,380.80 हे., वाशिम जिले के 5 तहसीलों में 4,880.19 हे., अकोला जिले के 4 तहसीलों में 4,770.34 हे. तथा संभाग में सबसे कम नुकसान यवतमाल जिले के 4 तहसीलों में 153.20 हेक्टेयर नुकसान हुआ है.

    मंत्रालय भेजी रिपोर्ट 

    17 से 21 मार्च तक हुई बेमौसम बारिश तथा अतिवृष्टि से हुए नुकसान के निरीक्षण बाद संभाग के पांचों जिलाधीश कार्यालय द्वारा प्राथमिक रिपोर्ट संभागीय आयुक्तालय में दर्ज कराई है. जिसके बाद यह नुकसान का रिपोर्ट राजस्व व वन विभाग (मदद व पुनर्वास) के मंत्रालय उपसचिव को भेजा गया है. 

    संभाग में जिलावार दर्ज नुकसान

    जिला बाधित तहसील बाधित क्षेत्र (हेक्टे.)

    अमरावती 10 14,994.70

    अकोला 4 4,770.34

    यवतमाल 4 153.20

    बुलढाणा 9 7,380.80

    वाशिम 5 4,880.19

    कुल 32 32,179.23