Manpa general meeting on 20, 36 members will be appointed

    अमरावती. जिले का मिनी मंत्रालय मुख्यालय अब कैम्प मार्ग पर स्थित गर्ल्स हाइस्कूल चौराहे पर साकार होंगा. पालकमंत्री एड. यशोमति ठाकुर के प्रयासों से जिला परिषद के इस नए भवन निर्माण हेतु प्रशासनिक मान्यता के साथ 49 करोड़ 83 लाख 98 हजार की धनराशि भी मंजूर की गई है.

    जिला परिषद प्रशासन को ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से गुरुवार को मंजूरी पत्र प्राप्त हो गया है. जिससे अब जल्द ही जिला परिषद के नए प्रशस्त मुख्यालय का निर्माण होने का मार्ग प्रशस्त होकर शहर को एक नई अत्याधुनिक प्रशासकीय इमारत उपलब्ध होंगी.  

    नई ईमारत 4 मंजिला 

    वर्तमान में जिस जगह पर जिला परिषद मुख्यालय है. वह इमारत जिप पदाधिकारी, अधिकारी व कर्मचारियों के लिए पर्याप्त नहीं है. इसलिए अब नए 4 मंजिला इमारत निर्मिती का प्रस्ताव बनाया गया है. 12.191.00 चौ.मी. इतनी जगह पर अब नया मिनी मंत्रालय आकार लेंगा.

    जिप के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा लोनिवि के उपमुख्य वास्तुकार के नमूना नक्शे के अनुरूप 58 करोड़ 68 लाख रुपए लागत मूल्य अनुमानित किया. मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं कार्यपालक अभियंता (भवन) द्वारा उच्च प्राधिकरण समिति द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव की जांच के उपरांत कुल 14102.65 चौरस वर्ग मीटर क्षेत्र में प्रस्तावित नए भवन के लिहए 49 करोड़ 83 लाख 98 हजार रुपये की अनुमानित लागत के लिए प्रशासनिक मान्यता मिली है. 

    पुरानी इमारत ब्रिटीश कालीन 

    जिला परिषद का मौजूदा प्रशासनिक भवन ब्रिटीश कालीन इमारत में है. इसका निर्माण वर्ष 1889 में किया गया था. अब यह पुरानी इमारत जीर्ण अवस्था में है और इसका नवीनीकरण या सुधार नहीं किया जा सकता है. कुछ शर्तों और शर्तों के अधीन यह इमारत जिला परिषद को प्रदान है.

    ‘ग्रीन बिल्डिंग’ तत्व पर बनेंगा नया भवन : पालकमंत्री 

    जिला परिषद मुख्यालय की यह नई इमारत ग्रीन बिल्डिंग के मापदंड़ के अनुसार साकार किया जाएगा. इस भवन में प्राकृतिक प्रकाश योजना, वायु विजन, पानी तथा बिजली का कम इस्तेमाल, जल पुनर्भरण तथा पर्यावरण पूरक निर्माण साधन,सामग्री के इस्तेमाल व जल्द से जल्द यह निर्माण पूर्ण कराने के आदेश पालकमंत्री यशोमति ठाकुर ने दिए है.