सारिका वनवे को 6 गोल्ड मेडल, विवि का पहली बार आनलाइन दीक्षांत कल

    अमरावती. संत गाडगेबाबा अमरावती विश्वविद्यालय का 37 वां दीक्षांत समारोह शनिवार 29 मई को सुबह 11 होंगा. पहली बार यह समारोह आनलाइन हो रहा है. जिसमें मराठी विभाग में स्नातकोतर सारिका वनवे को 6 गोल्ड मेडल से सम्मानित किया जाएंगा. जबकि अकोला सरकारी मेडिकल कालेज के तेजस दिनेश राठी को 5 स्वर्ण पदक से गौरान्वित किया जाएंगा. 

    गडकरी मुख्य अतिथि करेंगे मार्गदर्शन

    विसी डा.मुरलीधर चांदेकर ने गुरुवार को आनलाइन पत्र परिषदत में बताया कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी का मुख्य अतिथि दीक्षांत भाषण होंगा. राज्य के उच्च व तंत्र शिक्षण मंत्री उदय सामंत विशेष अतिथि म्हणून मार्गदर्शन करेंगे. विसी डा. चांदेकर प्रास्ताविक करेंगे. प्र-विसी डा. राजेश जयपुरकर प्रमुख उपस्थित रहेंगे.

    समारोह में मानद मानव विज्ञान पंडित (डी.लीट.) पदवी व गौरवपत्र ज्येष्ठ समाज सेवी शंकरबाबा पापलकर को राज्यपाल के माध्यम से डा. चांदेकर प्रदान करेंगे. अंबादासपंत वैद्य मतिमंद मूकबधिर, लावारिस, बालगृह आश्रम पापलकर चला रहे है. जहां 123 दिव्यांग बच्चों को जीने का आधार मिला है. आश्रम के दिव्यांग 24 लड़के-लड़कियों का विवाह कराया. पापलकर के जीवन पर विवि ने डाक्यूमेंट्री बनाई है. 

    110 स्वर्ण पदक व 154 पुरस्कारों का वितरण

    दीक्षांत समारोह में 110 गोल्ड मेडल, 22-रजत पदक, 22-नगद पारितोषिक इस तरह कुल 154 पारितोषिकों का वितरण होंगा. 02 गोल्ड मेडल व 02 नगद पुरस्कार के लिए कोई योग्य नहीं पाया गया. 83 विद्यार्थियों को पदक देकर गौरवान्वित किया जाएंगा. जिसमें लड़कियां- 65 और लड़कों की संख्या 18 है. 394 महाविद्यालय विवि से संलग्न है.

    3 महाविद्यालयों को स्वायत्त दर्जा है. ग्रीष्मकाल 2020 में 685 परीक्षाएं हुईं.  जिसमें 3,79,000 परीक्षार्थी थे.  जिसमें महाविद्यालयीन विद्यार्थियों की संख्या 1,93,202 और पूर्व व बहि:शाल विद्यार्थियों की संख्या 1,85,798 है. शीतसत्र- 2019 में 620 परीक्षाएं हुईं. जिसमें 3,25,643 परीक्षार्थी थे. अब तक 4475 संशोधकों को पीएचडी मिली. इस समारोह में 316 संशोधकों को पीएचडी से सम्मानित करेंगे.