70 हजार विद्यार्थी देंगे आनलाइन परीक्षा, 1 से 26 अक्टूबर को फायनल ईयर की एग्जाम

  • अमरावती विवि सज्ज- मंत्री सामंत 

अमरावती. राज्य के उच्च व तकनीती शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सभी विभागों की आनलाइन फाइनल एग्जाम के लिए संत गाडगे बाबा विद्यापीठ पूरी तरह सुसज्ज है. अमरावती विवि से 1 से 26 अक्टूबर के बीच 70 हजार विद्यार्थियों की आनलाइन एग्जाम ली जाएगी. विद्यार्थी मोबाइल, लैपटाप व कम्प्यूटर के माध्यम से आनलाइन एग्जाम दे सकेंगे, जबकि जिन विद्यार्थियों के पास आनलाइन की व्यवस्था नहीं है. ऐसे विद्यार्थियों के लिए उनके महाविद्यालय के माध्यम से व्यवस्था की जाएगी.जल्द से जल्द नतीजे घोषित करने का भी नियोजन किया है. 

अपने जिले में ही दे सकेंगे परीक्षा
मंगलवार को शहर दौरे पर आये मंत्री उदय सामंत ने अमरावती विवि के मुख्य प्रशासनिक भवन में विश्वविद्यालय की तैयारियों की समीक्षा बैठक ली. जिसके पश्चात पत्र परिषद में सामंत ने कहा कि आनलाइन परीक्षा के लिए विवि प्रशासन व विद्यार्थियों का मानसिक तनाव कम करने तथा मनोबल बढाने के उद्देश से वे समूचे राज्य की विश्वविद्यालय का दौरा कर रहे है.

नागपुर, गोंडवाना, रामटेक के बाद अमरावती इस तरह 4 विवि का दौरा कर विवि प्रशासन से समीक्षा मीटिंग ली है. जबकि बुधवार को मुंबई, औरंगाबाद तथा नाशिक विवि का दौरा करेंगे. आनलाइन परीक्षा के लिए अमरावती विवि की पूरी तैयारी हो चुकी है. नागपुर के प्रो मार्क एजेन्सी को आनलाइन परीक्षा की जिम्मेदारी सौंपी है. 

15 से 25 सितंबर को प्रैक्टीकल 
15 से 25 सितंबर के बीच प्रैक्टीकल एग्जाम होंगी. जबकि 1 से 26 अक्टूबर के बीच अंतिम वर्ष की परीक्षा ली जाएगी. जिसमें 50 फीसदी इंटरनल तथा 50 फीसदी एग्जाम के मार्क दिए जाएगे. 92 फीसदी विद्यार्थियों ने आनलाइन परीक्षा के लिए तैयारी दिखाई है, जबकि जिन विद्यार्थियों के पास आनलाइन की व्यवस्था नहीं है.

ऐसे विद्यार्थियों को 22 सितंबर तक अपने महाविद्यालय में आफलाइन परीक्षा के लिए जानकारी देने के निर्देश दिये है. जबकि 25 तारिख तक विवि को सूचना देनी होगी. जिसे जिले में विद्यार्थी रहता है. उसी जिले में विद्यार्थी की आफलाइन परीक्षा लेने की व्यवस्था की जाएगी. ऐसा नियोजन किया है.

विद्यार्थियों के हित में काम करें संगठन
उन्होंने कहा कि परीक्षा के विरोध व 30 फीसदी परीक्षा फीस रद्द करने के नाम पर कुछ विद्यार्थी संगठनाएं राजनीति कर रहे है, जबकि इन संगठनों ने राजनीति छोडकर विद्यार्थियों के हित में विवि प्रशासन, शासन व प्रशासन को सहयोग देना चाहिए, मराठा आरक्षण से स्थगिति हटाने के लिए सीएम उध्दव ठाकरे ने महाविकास आघाडी के नेताओं के साथ मीटिंग ली है. जल्द ही इस विषय में योग्य निर्णय लिया जाएगा.

स्पर्धा परीक्षा केंद्रों की शुरुवात
स्पर्धा परीक्षा में विद्यार्थियों को बढावा देने लिए एक कमेटी गठीत कर स्पर्धा परीक्षा केंद्रों की निर्मिति करने, मनुष्य बल बढाने का कार्य किया जा रहा है. कोकण, पश्चिम महाराष्ट्र व विदर्भ में स्पर्धा केंद्र निर्माण किए जा रहे है. इस समय उनके साथ पालकमंत्री एड.यशोमति ठाकुर, पूर्व विधायक प्रा.वीरेंद्र जगताप, कुलगुरु डा.मुरलीधर चांदेकर, प्र.राजेश जयपूरकर उपस्थित थे.

शासन, प्रशासन व विवि में समन्वय से परीक्षा प्रक्रिया
पालकमंत्री एड.यशोमति ठाकुर ने कहा कि  कोरोना महामारी के काल में प्रतिबंधात्मक उपाय योजना के लिए विवि से सहयोग मिला. विवि में लैंब स्थापित कर कोरोना रिपोर्ट समय पर मिलने लगी, जिससे प्रतिबंधात्मक उपाय योजना गति से मिलने लगी. शासन, प्रशासन व विवि प्रशासन के समन्वय से पूरी परीक्षा प्रक्रिया निपट जाएगी.