8 days strict lockdown, councilors request collector

अमरावती. बडनेरा में अनलॉक के बाद कोरोना पाजिटिव मरीजों की संख्या 35 से अधिक हो चुकी है. इसके बाद भी संख्या बढ़ने की संभावना अधिक रहने होने के चलते बडनेरा के सभी पार्षदों ने जिलाधिकारी शैलेश नवाल व निगमायुक्त प्रशांत रोडे को ज्ञापन सौंपते हुए 8 दिनों तक सख्ती से लॉकडाउन करने की मांग की है.

बढ़ते मरीजों पर जताई चिंता
पार्षदों ने बताया कि लॉकडाउन शिथिल होने के पश्चात 8-10 दिनों में बडनेरा संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. बडनेरा नगरपालिका भले ही महानगरपालिका में विलीन हुई है, लेकिन आज भी बडनेरा में घनी बस्ती रहने से मकान एक-दूसरे से सटे हैं. सभी व्यवहार पूरी तरह से ग्रामीण क्षेत्रों की तरह ही होते है. 80 प्रतिशत लोगों के मकान घनी बस्तियों में है, जिससे कोरोना फैलने का खतरा रहता है, उसमें भी अधिकांश क्षेत्र झुग्गियों का है, जिससे परिस्थिति प्रशासन के हाथों से भी निकल जाने का डर है. इसलिए लॉकडाउन लगाये, ऐसा अनुरोध किया गया है.

पुलिस प्रशासन का भी हो सहयोग
लॉकडाउन करते समय पुलिस प्रशासन का विशेष सहयोग होना जरुरी है. तभी उस लॉकडाउन को अर्थ रहेगा. क्योंकि आम नागरिक जरुरतों के अनुसार बाहर निकलते है. इसलिए आपत्ति व्यवस्थापन कानून 2005, महामारी प्रतिबंधक कानून 1897 के अनुसार बडनेरा शहर में सख्ती से लॉकडाउन करने की मांग पूर्व स्थायी समिति सभापति पापे ठाकुर, पार्षद प्रकाश बनसोड, ललीत झंझाड, इमरान अब्दुल सईद, मोहम्मद साबीर, पार्षद गंगा अंभोरे, इशरत बानो मन्नान खां, रुबिना तब्बस्सुम हारुण अली, जावेद मेमन ने की.