paddy fire, loss of millions

भातकुली. प्रभाग क्र. 17 निवासी अण्णासाहब विठ्ठल राउत के मकान में सोमवार को अचानक आग लगने से कपास, चना व सोयाबीन का माल खाक हो गया. बताया जाता है कि इस आग में 2 बंदरो की भी झुलसकर मौत हुई. 

शार्ट सर्किट से हुई घटना

राउत से खरीफ की मौसम की कृषि उपज घर में रखी थी. वह उसे बेचने की तैयारी में था. लेकिन दोपहर 12 बजे के करिब घर में कोई नहीं था. तभी बंदरों ने उनके घर में प्रवेश कर उत्पात मचाया. इसी उत्पात के दौरान बिजली के तारों का घर्षण होने से शार्ट सर्किट हो गया. व आग लग गई. कपास के कारण आग ने भयंकर रुप ले लिया. लोगों ने दमकल की टीम को सूचित किया, लेकिन भातकुली में ड्रायवर न होने से दमकल की गाड़ी नहीं पहुंची. जिसके बाद दर्यापुर से गाड़ी बुलायी गई. लेकिन तब तक पूरा माल खाक हो गया. इस आग में 32 क्विंटल कपास, सोयाबीन व चने से भरे 60 बोरे खाक होने की बात किसान ने बतायी है. 

आग में फंसे बंदर

आग लगने के बाद टोली के कई बंदर वहां से निकल गए लेकिन 2 बंदर आग में फंसने से उनकी मौत हो गई. प्रशासन की टीम ने घटना स्थल पर पहुंचकर नुकसान का पंचनामा किया है. किसान पर आयी इस मुसीबत के समय पूरा गांव उनके साथ खड़ा हुआ. घटना स्थल पर लोगों की भीड़ रही.