Corona Death
PTI Photo

    • एक अंतिम संस्कार पर 5 हजार खर्च

    अमरावती. कोरोना मृतकों की अंतेष्टि पर महानगर पालिका प्रशासन के अब तक 32 लाख रुपए का खर्च वहन किया है. इस खर्च में 557 कोरोना मृतकों पर मनपा ने अंतिम संस्कार कराए. एक पार्थीव पर अंत्येष्टि का खर्च 5 हजार रुपए निर्धारित है. इनमें से 2 हजार 700 रुपए दाह संस्कार और 2  हजार 300 रुपए मृत के परिजन तथा कर्मियों की पीपीई किट, पेट्रोल, राल, लकड़ी आदि पर खर्च किए जाते है.

    शहर के मुख्य हिंदू श्मशान भूमि समेत विलास नगर, शंकर नगर व एसआरपीएफ क्वार्टर क्षेत्र के श्मशान घाट पर कोरोना मृतकों पर अंतेष्टि की सुविधा मनपा ने की है. शहर में लावारिस मरने वाले या जिन मृतकों के परिजन नहीं पहुंचते, ऐसे शवों पर भी मनपा प्रशासन ही अंतिम संस्कार करता है. डेली 10 से 15 मृतकों पर अंतेष्टि की जा रही है. ऐसी जानकारी निगमायुक्त प्रशांत रोडे ने दी. 

    12 ओटे, 2 गैस दाहिनी, 1 बिजली दाहिनी

    कोरोना मृतकों पर अंतिम संस्कार के लिए शहर में हिंदू श्मशान भूमि समेत विलास नगर, शंकर नगर व एसआरपीएफ के घाट पर कुल 12 ओटे उपलब्ध है. इसके साथ ही 2 गैस व 1 बिजली शव दाहिनी पर भी कोरोना मृतकों पर अंतिम संस्कार किए जा रहे है. हर जोन में 1 श्मशान विकसित कर वहां पर ओटे तथा शेड़ की व्यवस्था भी मनपा ने कराई है. पहले केवल हिंदू श्मशान भूमि में ही सारे अंतिम संस्कार किए जाते थे, लेकिन अब शहर में अंतेष्टि के लिए 9 श्मशान घाटों पर सुविधा है. 

    2 शव वाहिका तैनात 

    मनपा द्वारा कोरोना मृतकों के पार्थीव मर्च्यूरी से श्मशान पहुंचाने के लिए 2 शव वाहिकाएं तैनात की है. इन दोनों शव वाहक वाहनों पर चालक व हेल्पर नियुक्त किए गए है. जिससे वक्त रहते हर पार्थीव को नियोजित श्मशान में पहुंचाकर अंतिम संस्कार निपटाना, राख संकलन, राख का विसर्जन तथा श्मशानों का सैनिटायजेशन का जिम्मा मनपा बखूबी निभा रही है.