Manpa general meeting on 20, 36 members will be appointed

    अमरावती. जिला परिषद के शिक्षा व निर्माण कार्य समिति सभापति पद के चुनाव में भाजपा की भूमिका ने सभी को हैरत में डाल दिया. महाविकास आघाड़ी के सामने नतमस्तक होते हुए भाजपा के 4 सदस्यों ने जिप अध्यक्ष के बंगले पर जाकर सभापति पद के लिए कांग्रेस के सुरेश निमकर को मूक समर्थन दिया. जिससे निमकर निर्विरोध सभापति चुने गए.  

     शिक्षा व निर्माण कार्य समिति की सभापति प्रियंका दगडकर का निधन हो जाने से इस रिक्त पद के लिए शनिवार को चुनाव प्रक्रिया निपटी हुआ. सुबह 11 से दोपहर 1 बजे नामांकन दायर करने की प्रक्रिया हुई. इस प्रक्रिया में काँग्रेस के पूर्व विधायक प्रा.वीरेंद्र जगताप गुट व धामणगांव रेलवे तहसील के तलेगांव दशासर सर्कल के जिप सदस्य निमकर का केवल एक ही नामांकन दाखिल हुआ.  

    नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया के दौरान जिला परिषद अध्यक्ष अनिरुध्द उर्फ बबलू देशमुख के सरकारी बंगले पर सत्तारूढ़ गुट के सभी जिप सदस्य इकठ्ठा किए गए. इस समय जिला पालकमंत्री एड.यशोमति ठाकुर व पूर्व विधायक जगताप समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे. जिला परिषद सदन में विपक्षी दल भाजपा के 4 सदस्य भी इस समय बंगले पर उपस्थित थे.

    इस समय रवींद्र मुंदे, शरद मोहोड़, प्रताप अभ्यंकर व भारती गेडाम का समावेश था. निर्विरोध चयन की खिचड़ी पकने के बाद भाजपा के सदस्यों के साथ फोटो निकालने के मोह ने यह घटनाक्रम एक्सपोज कर दिया. एक तरफ जहां भाजपा के विपक्षी नेता देवेंद्र फडणवीस महाविकास आघाड़ी सरकार के खिलाफ कोई अवसर नहीं छोड़ रहे है. वहीं दूसरी ओर उनकी पार्टी के सदस्य डायरेक्ट कांग्रेस के साथ हाथ मिला रहे है. 

    हमने वॉकआउट किया 

    हमारा संख्याबल नहीं जुटा. नामांकन दायर कर कोई भी महाविकास आघाड़ी को विरोध करने के लिए तैयार नहीं होने से हमने सदन से वाकआउट किया.  -प्रवीण तायडे, जिप गुटनेता, भाजपा

    जिला परिषद में दलीय संख्याबल 

    पार्टी         संख्याबल

    काँग्रेस       26

    राष्ट्रवादी     05

    शिवसेना     03

    निर्दलीय        01

    भाजपा       13

    प्रहार        05

    युवा स्वाभिमान 02

    बसपा        01

    कुल संख्या  59

    रिक्त पदे     03

    सत्ताधारी     35