कोरोना: आयसीयू, ऑक्सीजन बेड हाउसफुल

  • जनरल बेड की किल्लत नहीं

अमरावती. कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. जिसे देखते हुए मरीजों को भागदौड करनी पड रही है. फलस्वरुप शहर में नये अस्पतालों का निर्माण भी हो रहा है. बावजूद इसके आयसीयू व ऑक्सीजन बेड की किल्लत का सामना कोरोना मरीजों को करना पड रहा है. सीएम की समीक्षा बैठक की रिपोर्ट के अनुसार शहर के सभी अस्पतालों में जनरल बेड्स की किल्लत नहीं होने की पुष्टि की है.  

11 अस्पतालों में चल रहा इलाज

मनपा क्षेत्र अंतर्गत 11 अस्पतालों के माध्यम से कोरोना मरीजों की इलाज किया जा रहा है. जिसमें सुपर स्पेशालिटी में 50 आयसीयू बेड है. जिसमें से मात्र 2 और 117 ऑक्सीजन बेड में से मात्र 2 शेष है. जबकि जनरल बेड में 45 खाली है. उसी तरह पीडीएम सी में भी आयसीयू हाउसफुल है. ऑक्सीजन के 34 और जनरल बेड्स 69 शेष है. दयासागर में आक्सीजन व आयसीयू के बेड उपलब्ध नहीं है. जबकि जनरल के मात्र 4 बेड्स उपलब्ध होने की जानकारी है. इसके अलावा बख्तार अस्पताल, महावीर प्राइम पार्क, पर्ल गेटलाइफ में ऑक्सीजन व आयसीयू के बेड नहीं है. इसी तरह आयसीयू के 35, आक्सीजन के 41 और जनरल के 183 बेडस् उपलब्ध होने की जानकारी है. 

कोविड हेल्थ केयर में भी ऑक्सीजन की व्यवस्था

प्रशासन की ओर से जिले के 6 अस्पतालों के कोविड हेल्थ केयर में ऑक्सीजन व जनरल बेडस की व्यवस्था कीहै. जिसमें एसडीएच अचलपुर में ऑक्सीजन के 5, जनरल 16 बेडस् उपलब्ध है. नांदगांव के ट्रामा में ऑक्सीजन के 12 और जनरल के 42 बेड्स है. डा. ढोले अस्पताल जनरल के 45, मोझरी में 95, दर्यापुर में 15, मोर्शी में 15 जनरल बेड्स उपलब्ध है. ग्रामीण क्षेत्र में भी ऑक्सीजन के 47 और जनरल 228 बेड्स उपलब्ध होने से कोरोना मरीजों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी. इसी तरह चांदूर, धामणगांव, भातकुली, जेल रोड, दर्यापुर, आर्मी अस्पताल, वलगांव, वरुड, विएमवि, धारणी, चिखलदरा, अंजनगांव के कोविड केयर सेंटर में 1070 में से 185 बेड्स पर ही मरीज दाखिल है. जबकि 785 बेड्स उपलब्ध होने की जानकारी है.