जिले में कामयाब रहा कर्फ्यू, चारों तरफ छाया रहा सन्नाटा

    • खेतों के काम भी हुए प्रभावित 

    अमरावती. बढ़ते कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने के लिए शनिवार रात 8 से सोमवार सुबह 8 बजे तक घोषित लाकडाउन रविवार को जिले में कामयाब रहा. सभी 14 तहसीलों में जनता ने कर्फ्यू का कड़ाई से पालन किया. सुबह 10 बजे तक दूध बिक्री के बाद एक भी व्यापारी प्रतिष्ठान नहीं खुला. यहां तक खेतों के काम भी प्रभावित हुए. जिले में इन दिनों अधिकाश क्षेत्रों में चना कटाई शुरू है, लेकिन लाकडाउन के कारण मजदूरों के अभाव में रविवार को तुड़ाई नहीं हो पाई. मुख्य सड़कों के अलावा गली-कुचों के रास्तों पर भी पूरे दिन सन्नाटा छाया रहा. लाकडाउन के दौरान जिले में कही कोई गड़बड़ी की खबर नहीं है. 

    धारणी में कर्फ्यू का पालन 

    तहसील में जनता कर्फ्यू का खासा असर रहा. सुबह से लेकर रात तक व्यापारिक क्षेत्रों समेत मुख्या रास्तों पर सन्नाटा रहा. नागरिकों ने स्वयं स्फूर्ति से कर्फ्यू का पालन किया. मेलघाट में शत-प्रतिशत सफल रहे कर्फ्यू के कारण निश्चित रुप से कोरोना की चैन टूटने की आशाएं पल्लवित हुई है.  

    तलेगांव दशासर में सन्नाटा

    तलेगांव दशासर में रविवार को जनता ने स्वयं स्फूर्ति से लाकडाउन शत-प्रतिशत सफल बनाया. पुलिस की अपील पर शासन के अनुसार अपने सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान पर ताले लगे रहे.चहल-पहल पर पूरी तरह रोक लगाकर अपनी व अपने परिवार की सुरक्षा के लिए घर में सुरक्षित रहने के मूल मंत्र का पालन किया है. सभी आम रास्तों व नागपुर-औरंगाबाद  महामार्ग पर भी पूरी तरह सन्नाटा रहा. वही सभी चौक,चौराहों पर पुलिस की उपस्थिति ने पूरी तरह कर्फ्यू को क़ायम रखने में अहम रोल अदा किया. शनिवार रात ही तलेगांव पुलिस के थानेदार अशोक कांबले के साथ ही पुलिस दल ने गांव व क्षेत्र में पेट्रोलिंग कर लोगों से आपत्ति व्यवस्थापन के नियमों का पूरी तरह पालन करने व जनता कर्फ़्यू में शासन को सहयोग देने की अपील की. यहाँ शनिवार रात 8 बजे से ग्राम के सभी  व्यापारिक प्रतिष्ठान पर तालेबंदी नियमों का पालन किया गया.

    पथ्रोट में भी कड़ा बंद

    पथ्रोट में भी लाकडाउन का कड़ाई से पालन किया गया. शनिवार की रात 8 बजे से यहां की सड़कों पर सन्नाट छाया रहा. थानेदार  नरेन्द्र डंबाले सहित सहायक थानेदार वसुकार  , राहुल चौधरी ने टीम के साथ नजर रखी. पूरा बाजारपेठ बंद रहा. इससे पहले शुक्रवार को पुलिस प्रशासन ने दुकानदारों सहित 35 लोगों पर जुर्माना ठोकने की कार्रवाई भी की. ग्रापं कर्मी राहुल उके, पुलिस पाटिल नितन गोरले ने यह कार्रवाई की. 

    मोर्शी भी शत प्रतिशत लाक

    कोरोना संक्रमण की दुसरी लहर तेज होने के कारण इस पर नियंत्रण हेतु जिले में घोषित लाकडाउन का तहसील में भी कड़ायी से पालन हुआ. यहां पर पुलिस निरीक्षक संजय सोलंके के मार्गदर्शन में उपनिरीक्षक  सिचिन बोंडे, यातायात शाखा के सुभाष वाघमारे, मोहन बारब्दे, आदि ने कड़ा बंदोबस्त रखा. मेडिकल व अन्य अत्यावश्यक सेवा के अलावा अन्य सेवाएं बंद रही. 

    नेर पिंगलाई में बंद रहे बाजार 

    नेर पिंगलाई. यहां भी लाकडाउन सख्त पालन किया गया. शनिवार रात 8 बजे से ही शहर व ग्रामीण की सभी दूकानें बंद रही. चाय-पान टपरियां भी नहीं खुली. शिरखेड़ पुलिस थानेदार केशव ठाकरे व कर्मियों ने तगड़ा पुलिस बंदोबस्त लगाया. सरपंच सविता खोडस्कर व उपसरपंच मंगेश अडणे समेत प्रशासन की टीम ने संयुक्त प्रयास कर इस लाकडाउन को सफल बनाया. लेहगांव और नेरपिंगलाई पुलिस की टीम ने शनिवार को नियम तोड़ने वाले 40 लोगों पर कार्रवाई करते हुए 8 हजार रुपए का जुर्माना वसूला.  

    नांदगांव खंडेश्वर में रहा कड़ा बंदोबस्त

    नंदगांव खंडेश्वर तहसील नगर में रविवार को लाकडाउन के दौरान चप्पे-चप्पे पर पुलिस का कड़ा बंदोबस्त रहा. सुबह से नांदगांव खंडेश्वर शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में कर्फ्यू का कड़ाई से पालन हुआ. कोरोना को हराने के लिए नांदगांव में एकजुटता दिखी. पीआय उंबरकर, एपीआय चव्हाण, पीएसआइ कांबले, कंकाले, राजेश सरकटे, रंगारी, विजय चव्हाण, अमोल, सदानंद व अन्य पुलिस कर्मी बंदोबस्त में तैनात है. बाजार समेत चाय टपरियां भी नहीं खुली. 

    दर्यापुर शहर में सन्नाटा

    कोरोना के बढ़ते प्रकोप पर नियंत्रण के लिए शासन द्वारा घोषित लाकडाउन का दर्यापुर में कड़ायी से पालन किया गया.  लोगों ने स्वयं स्फूर्ति से बंद का पालन किया. दुकाने, प्रतिष्ठान लेकर चाय-पान टपरियां तक बंद रही. चौक चौक पर पुलिस का कड़ा बंदोबस्त रखा गया. 

    धामणगांव में कडा बंद 

    कोरोना के बढते संक्रमण के चलते जिलाधिकारी के आदेश पर धामणगांव तहसील रविवार को कडा बंद रहा. शनिवार को रात 8 बजे से नगर परिषद कर्मचारियों ने बाजार में घुमकर खुली दुकानें बंद कराई. रविवार को स्वास्थ्य व अन्य अत्यावश्यक सेवा छोडकर अन्य दूकानें व प्रतिष्ठान बंद रहे. बढते कोरोना के दहशत से आमजनों ने लाकडाउन को संपूर्ण सहयोग दिया. पुलिस निरीक्षक ब्रम्हदेव शेलके व उनके सहयोगियों ने कडा बंदोबस्त लगाया था.