The entire Rana family infected, security guards caught everyone

अमरावती. राज्य विधान मंडल के शीत सत्र के दूसरे व अंतिम दिन मंगलवार को बडनेरा के विधायक रवि राणा चर्चा में रहे है. संतरे की माला गले में पहनकर प्रवेश कर रहे राणा को विधानसभा द्वार पर ही रोक दिया गया. संतरे का हार निकालने के बाद प्रवेश दिया गया. लेकिन इस समय राणा सरकार विरोधी वक्तव्य वाले बैनर पहनकर सदन में पहुंचे और नारेबाजी की. जिस पर विस अध्यक्ष नाना पटोले ने आपत्ति दर्ज कर राणा के कान खींचे तथा उन्हें सदन से बाहर जाने के निर्देश दिए.

लेकिन राणा ने नारेबाजी जारी रखी. जिस पर आक्रामक हुए सत्तापक्ष ने उनके निलंबन की मांग की. जिस पर विस अध्यक्ष क्या निर्णय लेते है, इस पर सभी की नजरें गढ़ी हैं. सत्र के पहले दिन सोमवार को भी रवि राणा ने सरकार विरोधी बैनर परिधान कर सदन के बाहर प्रदर्शन किया था.

फडणवीस ने किया बीच-बचाव

राणा के पोषाख पर विस अध्यक्ष की आपत्ति के बाद विपक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस ने बिचबचाव किया. उन्होंने कहा कि रवि राणा का बर्ताव भले ही अयोग्य है, लेकिन उनके मुद्दों पर निश्चित ही गौर करने की आवश्यकता है. फडणवीस ने राणा से सदन के बाहर जाकर पोषाक उतारने का अनुरोध भी किया. लेकिन सदन में बढते हंगामे पर विस अध्यक्ष ने खडे रहकर शांत रहने की सूचना सदस्यों को दी.