rain
File Photo : PTI

    मेलघाट. सोमवार की दोपहर के बाद शुरू प्री मानसून ने मेलघाट के साथ अचलपुर, अंजनगांव सुर्जी तथा मोर्शी तहसील में कहर बरपाया है. इस तूफानी बारिश में अनेक आशियानें उजड गए है, जबकि कई क्षेत्रों में फसलों का नुकसान हुआ है. उसी प्रकार तेज हवाओं के कारण कई विशालकाय वृक्ष तथा बिजली पोल धराशाही हुए. जिसके चलते कई क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति कई घंटों तक खंडीत रही.

    5 हजार की फौरी राहत

    मेलघाट की आर्थिक राजधानी धारणी तहसील में सोमवार की रात तूफानी बारिश ने अचानक दस्तक दी. तहसील के अनेक गांवों में पेड गिरे व घरों की छतें उड गई, जिससे काफी नुकसान हुआ. सिरपुर गांव में 80 प्रतिशत घरों के छत उडने से बडा संकट उन पर टूट पडा है. नुकसान की जानकारी मिलते ही मेलघाट के विधायक राजकुमार पटेल, सिरपुर के उपसरपंच वृषभ घाडगे, धारणी पंचायत समिति के पूर्व सभापति रोहित पटेल, तहसीलदार अतुल पाटोले आदि ने मौके पर पहुंचे.

    पटवारी, मंडल अधिकारियों ने नुकसान का पंचनामा किया. जिन मकानों का अधिक नुकसान हुआ, उन्हे तत्काल 5 हजार की सानुग्रह निधि सरकार की ओर से मिलने की जानकारी तहसीलदार पटोले ने दी. मामूली नुकसानग्रस्तों को पंचनामा के बाद सहायता दी जाएगी. सौभाग्य से इसमें कोई जनहानि नहीं हुई. 

    संतरा, केले के पेड उखड़े

    इस तूफानी बारिश में केले की फसल के साथ संतरा पेड़ भी जड़ से उखड़ गए. अंजनगांव तहसील में विहिगांव, हंतोड़ा तथा अचलपुर तहसील में वाघडोह, कुणबी वाघोली, पथ्रोट परिसर में इन फसलों का नुकसान हुआ. संतरा के आंबिया बहार के फल गलने से उत्पादकों को भारी आर्थिक नुकसान हुआ है.

    अचलपुर तहसील में शहानुर जलाशय के पास वाघडोह ग्रामपंचायत परिसर का पिपल का पेड़ जड़ से उखड़ गया. कई मकानों के छत भी उड़ गए तथा अंधड़ से बिजली आपूर्ति भी खंडित रही. पथ्रोट गांव में नाले साफ नहीं किए जाने से बारिश का पानी सड़कों से बहने लगा. जिससे सड़कें कीचड़ से सन गई.

    मोर्शी में भी किसानों पर आफत

    मोर्शी तहसील के डोमक, रायपुर, तरोड़ा, आष्टोली में रविवार को हुई तूफानी बारिश से संतरा, मोसंबी, सब्जी समेत विभिन्न फसलों का नुकसान हुआ है. अनेक मकान भी क्षतिग्रस्त हुए. विधायक देवेंद्र भुयार ने प्रत्यक्ष खेतों में जाकर किसानों के नुकसान का निरीक्षण किया.