63 हजार परिवारों का डोअर टू डोअर सर्वेक्षण

  • शहर व ग्रामीण में मुहिम को जबरदस्त प्रतिसाद

अमरावती. मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी मुहिम को शहर ही नहीं तो ग्रामीण क्षेत्र में भी जबरदस्त प्रतिसाद प्राप्त हो रहा है. तीन दिनों में प्रशासन की टिमों में 63 हजार परिवारों को डोअर टू डोअर भेंट देकर जानकारी ली है. विशेष बात यह है कि लोग भी कोरोना के चलते स्वयंस्फूर्ती से बिमार मरिजों के साथ साथ बाहर गांव से आनेवाले लोगों के संदर्भ में भी खुलकर जानकारी दे रहे है. जिससे प्रशासन को बिमार मरिजों तक सुविधा पहुंचाने का समय प्राप्त हो रहा है.

मनपा की 230 टिमें कार्यरत

महानगरपालिका क्षेत्र में सर्वेक्षण के लिए स्वास्थ्य विभाग ने 230 टिमें तैयार की है. यह टिम प्रत्येक जोन और प्रभाग निहाय घर घर पहुंचकर सर्वेक्षण का काम निपटा रही है. सुबह 7 बजे से टिम के सदस्य जानकारी जुटाने के लिए बाहर निकलते है जो दोपहर 4 बजे तक जानकारी विभाग तक पहुंचाते है. शहर में प्रत्येक जोन के नागरिक कोरोना संक्रमण के आंकडे बढने से बिमार मरिज से लेकर सभी जानकारी टिमों को दे रहे है. उसी तरह ग्रामीण क्षेत्र में भी सर्वेक्षण के दौरान 1163 सर्दी, बुखार के तथा 1474 मरिज डायबेटिक, कैंसर समेत अन्य बिमारियों के पाये गये. जिन्हें भी कोरोना से बचने के लिए किये जानेवाली उपाययोजना के बारे में बताया गया.

11 हजार मकानों को भेंट

मनपा क्षेत्र में 11 हजार मकानों को भेंट दी गई. शहर में 8 लाख की आबादी है जिसमें 2 लाख मकानों को भेंट देने का नियोजन बनाया है. पहले लोग जानकारी नहीं दे रहे थे लेकिन अब स्वयंस्फूर्ती से जानकारी देगी जा रही है.

डा. विशाल काले, वैद्यकिय अधिकारी मनपा

292 मरिज होम क्वारंटाइन

ग्रामीण क्षेत्र में भी होम क्वांरटाइन पर अधिक जोर दिया जा रहा है. 292 मरिज होम आयसोलेशन है. इस सर्वेक्षण से प्रशासन को काफी राहत मिलेगी. क्योंकि 61,896 मकानों को भेंट देने पर 1163 मरिज बुखार, खांसी, सर्दी के पाये गये. इस मुहिम में 4 लाख 51 हजार 777 मकानों को भेंट देना है.

डा. दिलीप रणमाले, डीएचओ जिप