Excitement: Ring of fire in Coronachal, competition to see solar eclipse

अमरावती. रविवार को कंकनाकृति सूर्यग्रहण को लेकर जनता में गजब का उत्साह रहा. लोगों ने एक्स-रे फिल्म, दूरबीन, चश्में से सूर्यग्रहण को निहारा. कोरोनाकाल में रिंग ऑफ फायर देखने लोग 10 बजे से मकानों, इमारतों की छतों, खुले मैदान व आंगन में उतरे. कई लोगों ने इस ऐतिहासिक घटना को अपने कैमरे में कैद किया. दोपहर 1.36 बजे तक लोग इस अद्भूत खगोलिय नजारे का लाभ लेते रहे.

युवाओ, बच्चों में उत्साह
कोरोना जैसी महामारी के भय और लॉकडाउन के साए में उदासिन हो रहे लोगों में सूर्यग्रहण ने उत्साह संचारित किया. लोग सुबह से ही सूर्यग्रहण का नजार देखने के लिए प्रोत्साहित करते रहे, युवा पीढ़ी और बच्चों में इसे लेकर गजब उत्साह रहा.

सूतक काल में घरों के मंदिर के पट भी बंद
कोरोना के कारण भीड़ पर नियंत्रण के लिए सभी बड़े मंदिरों के पट बंद रहे. लेकिन  सूर्यग्रहण के कारण शनिवार की रात से ही छोटे छोटे मंदिरों व घरों के मंदिरों के पट भी लगा दिए गए. कई घरों में देवस्थल पर पट न होने से कपड़े के पर्दे डालकर भगवान को ग्रहण के साए से सुरक्षित किया गया. परंपरानुसार ग्रहण छूटने के बाद दान पुण्य किया गया.

सड़कों पर सन्नाटा
आमतौर पर अनलॉक रहने से सड़कों पर सुबह, दोपहर और शाम को नागरिक दिखाई दे रहे हैं. लेकिन रविवार रहने से मार्केट बंद था और सूर्यग्रहण के कारण नागरिक भी सड़कों पर दिखाई नहीं दिये, जिससे कई दिनों बाद मुख्य चौक चौराहों से लेकर सड़कों पर सन्नाटा पाया गया.