विभिन्न सामायिक प्रवेश परीक्षाओं को एक्सटेंशन

अमरावती. देश के साथ महाराष्ट्र के विद्यापीठों की परीक्षाओं से सामायिक प्रवेश परीक्षाओं की तिथियां एक जैसी आने से कई छात्र छात्राओं को परीक्षाओं से वंचित रहना पड रहा है. छात्रों की समस्या ध्यान में लेते हुए सामायिक प्रवेश परीक्षाओं की तिथी आगे करने की मांग अखिल भारतीय शैक्षिक महासंघ ने की थी. जिसकी दखल लेते हुए विभिन्न घोषित की गई सामायिक प्रवेश परीक्षाओं को एक्सटेंशन लेने का निर्णय लिया है.

महाराष्ट्र राज्य के सीईटी सेल व्दारा विभिन्न सामायिक प्रवेश परीक्षाओं की घोषणा की गई. जिसमें देश व राज्य के विद्यापीठों से परीक्षाओं से सामायिक प्रवेश परीक्षाओं की तिथियां एक समान हो रही थी. जिसके चलते छात्रों को कौनसी परीक्षा दे लेकिन नुकसान संभव ऐसी स्थिति निर्माण हुई थी. बीएड, एमएड, एलएलबी, बीपीएड व एमपीएड इन परीक्षाओं की सीईटी परीक्षा के संदर्भ में अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने सीईटी सेल के आयुक्त से संपर्क कर ज्ञापन भी सौंपा था. इस ज्ञापन की दखल लेते हुए यह परीक्षा 21 अक्तुबर से आगे ढकेले गये है. सीईटी सेल के आयुक्त ने महासंघ के ज्ञापन पर तत्काल प्रतिसाद देकर इस संदर्भ में विद्यापीठ के कुलगुरू से संपर्क कर निर्णय लेंगे ऐसा आश्वासन दिया.

फिल्ड टेस्ट रद्द करें- प्रा. प्रदीप खेडकर

कोविड 19 में भी परीक्षाएं लेने की जोखीम सरकार ने ली है. फिल्ड टेस्ट के लिए हजारों छात्र एक जगह पर लाने का निर्णय लिया है. बीपीएड परीक्षा के लिए अन्य राज्यों से छात्र कैसे आयेंगे और आपत्ती व्यवस्थापन कानून लागू होते हुए मैदानों पर छात्रों की भीड न हो इसके लिए जिलाधिकारी अनुमति देंगे क्या? ऐसे कई सवाल है. जिसके चलते फिल्ड टेस्ट ही रद्द करने का निर्णय लेना चाहिए.