बोगस बीज विक्रेताओं पर FIR करें, सांसद राणा के जिला प्रशासन को निर्देश

अमरावती. जिले के किसानों को महाबीज व वड़द कोहीनूर सोयाबीन के बोगस बीज की विक्री की जा रही है. इस बीजों में उगवन क्षमता नहीं है, जिसके कारण फसल नहीं आयेगी. यह बीज बुआई करने पर किसानों को दुबारा नापिकी का सामना करना पड़ेगा और किसानों पर आत्महत्या करने की नौबत आयेगी. ऐसे सभी मामलों पर रोक लगाने के लिए बोगस बीज विक्री करनेवाली कंपनियों के खिलाफ मामले दर्ज करने के निर्देश सांसद नवनीत राणा ने दिये. 

किसानों तक पहुंचाए शासकीय योजना
इस समय उन्होंने जिला प्रशासन समेत कृषि विभाग को शासकीय योजनाओं को किसानों तक पहुंचाने के निर्देश दिये. गांव गांव में यदि कृषि विभाग की योजनाएं नहीं पहुंचायी जाती है, तो उसके लिए एकमात्र विभाग ही जिम्मेदार होगा, ऐसी ताकीद भी अधिकारियों को दी.

कर्जमाफी के लिए शासनस्तर पर पत्रव्यवहार
इस बैठक में नवनीत राणा ने अंजनगांव सुर्जी, नया अकोला, नेरपिंगलाइ, चांदूर बाजार समेत विभिन्न तहसीलों से पहुंचे किसानों की समस्याओं पर चर्चा की. साथ ही कर्जमाफी के लिए उन्होंने शासन स्तर पर पत्रव्यवहार करने की बात कहीं. 8 से 10 दिनों में कर्जमाफी होगी ऐसी संभावना भी उन्होंने व्यक्त की. बैठक में जिलाधिकारी शैलेश नवाल, अग्रणी बैंक के व्यवस्थापक कुमार झा, जिला कृषि अधिकारी विजय चवाले, उपसंचालक अनिल खर्चान, निवासी जिलाधिकारी नितीन व्यवहारे, जिप सदस्य प्रकाश साबले, प्रशांत डहाणे, दिनेश टेकाम आदि उपस्थित थे.