पोता ही निकला हत्यारा, आरोपी अरेस्ट, मोबाईल के लिए किया मर्डर

    चांदूर बाजार. तहसील के ब्राम्हणवाडा थडी में गुरुवार को हुई गिरजा अण्णाजी आमझरे (75, भोईपूरा, ब्राम्हणवाडा थडी) के हत्या की गुत्थी चौबिस घंटे के अंदर सुलझ गई है. पुलिस ने हत्या के आरोप में गिरजा का पोता सुरज प्रल्हाद आमझरे (29) को गिरफ्तार कर लिया है. उसने मोबाइल के लिए अपनी दादी की हत्या करने का सनसनीखेज खुलासा प्राथमीक जांच में हुआ है.   

    विवाद के बाद रेता गला

    गुरुवार की सुबह करीब 9 बजे मृतक महिला का पति अण्णाजी आमझरे पडोस में चाय पीने गया था. इस समय हत्यारे ने गिरजा का गला रेतकर आभूषण उडा लिए थे. इस मामले में ब्राम्हणवाडा थडी पुलिस ने संदीग्ध पोता सूरज को हिरासत में लिया. शुरूवाती जांच में ही उसने हत्या की कबूली देते हुए बताया कि मोबाईल के लिए दादी से पैसों की मांग की थी, लेकिन उसने मना किया. जिसके चलते दोनों में हुए विवाद में सूरज ने दादी की हत्या की और मंगलसूत्र लेकर फरार हो गया.

    पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया है. यह कार्रवाई अतिरीक्त पुलिस अधीक्षक शाम घुगे, उपविभागीय पुलिस अधिकारी अबदागीरे, थानेदार दीपक वलवी के मार्गदर्शन में पुलिस उपनिरीक्षक संजय शिंदे के नेतृत्व में सोलंके, कैलास खेडकर, किसन सपाटे, साहबराव राजस, एएसआय मंगला सानप, दिनेश वानखेडे, राहूल मोरे, विशाल भोयर, महेंद्र राऊत, अजय कुमरे आदि ने की है.