Crop Loss Due to rain

    • कई तहसीलों में बरसे मेघ

    अमरावती. गुरुवार की शाम शहर समेत विभिन्न तहसीलों में मेघ बरसे. धारणी तहसील में बिजली की गडगडाहट के साथ सभी ओर चने के आकार के ओले बरसे. उसी प्रकार शहर से सटे बडनेरा तथा चिखलदरा के भामादयी, काटकुंभ, चुरणी में भी बारिश ने दस्तक दी. प्रादेशीक मौसम विभाग ने विदर्भ में अगले दो दिनों में गरज के साथ बारिश की संभावना व्यक्त की थी. जिसके चलते बिते दो दिनों से बादल छाए थे. 

    किसानों पर फिर आफत 

    फिलहाल असिंचित खेंतों में फसले नहीं होने से किसान बेफिक्र है. लेकिन सिंचित खेती करने वाले किसानों की रबी मौसम की फसलें अभी भी खेत में होने से मौसम के इस करवट से उनकी चिंता बढा दी है. चना और गेहूं की फसलों की कटाई और थ्रेशिंग चल रही है. मजूदरों के अभाव में कुछ खेतों के फसलों की कटाई लटक गई है. आगामी कुछ दिनों में अमरावती समेत विदर्भ के अन्य जिलों में आंधी-तूफान आने की आशंका मौसम विभाग ने व्यक्त की है.

    बेमौसम बारिश से हाथ आई फसलें बरबाद हो सकती है. जिसके चलते फसलों की कटाई और थ्रेशिंग में तेजी आई है. लेकिन थ्रेशिंग मशीन और मजदूरों की कमी के कारण, सभी किसानों को फसलों की कटाई को पूरा करना संभव नहीं है. फसलों को बारिश से बचाने के लिए, कटी हुई फसलों के ढेरों को प्लास्टिक से ढंकने का काम किया जा रहा है.

    गर्मी से राहत, उमस बढी

    बिते दो दिनों के बदरीले मौसम तथा गुरुवार को हुई बारिश ने भिषण गर्मी से मामूली राहत जरुर दी है. देर रात और सुबह बहनेवाली हवाएं भी ठंडक दे रही है. जिससे आम लोग राहत महसूस कर रहे है. लेकिन बादल छाए रहने से दोपहर में उमस सताने लगी है. 

    चिखलदरा में गाज गिरने से नुकसान

    पर्यटन नगरी चिखलदार के रिहायशी इलाके अप्पर प्लेटो में होटल व्यवसायी सलीम शाह के आंगन में लगे छिंद के पेड़ पर बिजली गिरने से काफी नुकसान हुआ है. जिसमे घर में लगे सभी इलेक्ट्रिक सामग्री टीवी, फ्रीज़, फैन, आदि संपूर्णतः ख़राब हो चुके है. जिससे भारी नुकसान हुआ है. शाह परिवार ने इस नैसर्गिक आपत्ति के मुआवजे की मांग प्रशासन से की है.