File Photo
File Photo

अमरावती. शहर के प्रमुख व्यावसायिक क्षेत्रों में पहले ही पार्किंग की समस्या जटिल बनी है. उसमें सिमेंट रोड के निर्माण कार्य के चलते बडे बडे शोरुम के सामने स्टैच्यू और लोहे के पायदान रख दिये जाने से समस्या और भी अधिक विक्राल हो गयी है. आश्चर्य की बात है कि महानगरपालिका का अतिक्रमण विरोधी दस्ता ट्राफिक में बाधा बनी इस समस्या का निपटारा करने कोई कार्रवाई नहीं करता. नवनियुक्त पुलिस आयुक्त डा. आरती सिंह ने अपने पहले ही दौरे में इस समस्या को भली भांति भांप लिया. उन्होंने इस बात को लेकर आश्चर्य जताया कि मनपा का अतिक्रमण विरोध दस्ता कारवाई क्यों नहीं करता.  

जगह-जगह ट्राफीक जाम 
लगातार दो वर्षों शहर के मुख्य मार्गों की सडकों का सिमेंटीकरण किया जा रहा है. जिसके चलते पहले ही वन साईट पार्किंग कर ट्राफिक जाम की समस्या का सामना लोगों को करना पड रहा है. ऐसे में कोरोना के कारण यह काम और भी धिमी गति से किया जा रहा है. परिणामत: दोनों ओर की जानेवाली पार्किंग एक साईट में किये जाने से आनेजानेवालों का चलना मुश्किल हो चुका है.

जहां दोनों और सिमेंटीकरण किया गया वहां पर प्रतिष्ठान संचालकों के प्रतिष्ठान में काम करनेवाले कर्मचारियों की गाडियां खडी हो जाती है. परिणामत: ग्राहकों को गाडियां खडी करने के लिए सौ बार विचार करना पडता है. ऐसे में कई जवाहर रोड के कई प्रतिष्ठान संचालकों ने स्टैच्यू और ऑफर के बोर्ड सडकों पर ही टांग दिये हो. इतना ही नहीं तो बडी शोरुम के सामने हाथगाडी वाले अपनी गाडियां लगाते है जिससे पैदल चलनेवाले को भी विचार कर सडक से गुजरना पडता है. 

नालियों पर भी अतिक्रमण 
शहर के मध्यस्थल स्थित जवाहर रोड, सरोज चौक, मोची गली, गांधी चौक, श्याम चौक, प्रभात चौक में अधिकांश दूकानदारों ने दूकानों की जगह के साथ नालियों पर भी अतिक्रमण किया है. परिणामत: नालियों की समस्या का सामना दूकानदारों को करना पड रहा है. ऐसे में नालियां छोडकर अब फूटपाथ पर भी अतिक्रमण किया गया है. जिसे एक ही नजर में सीपी आरती सिंह ने भांप लिया. ऐसे अतिक्रमण के कारण ही सडके छोटी हो रही है. जिसके चलते उन्होंने व्यापारियों को भी हद में ही व्यापार करने की चेतावनी देकर अतिक्रमण दस्ते को कार्रवाई करने के आदेश दिये. 

अतिक्रमण कार्रवाई जारी
अतिक्रमण की कार्रवाई की जा रही है. 3 माह से लाकडाउन रहने के चलते व्यापारी प्रतिष्ठान ही बंद थे. जिसके कारण कार्रवाई नहीं हो पायी. जब अनलाक हुआ तो अतिक्रमण धारियों का अतिक्रमण हटाने का काम किया जा रहा है.-गणेश कुत्तरमारे, अतिक्रमण विभाग प्रमुख 

कार्रवाई करने मनपा की टिम तैयार 
अतिक्रमण विभाग की ओर से कई बार अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई, लेकिन कई दिनों बाद यह स्थिती जैसे थे हो जाती है. जिसके लिए स्थायी रुप से पर्याय ढूंढना होगा. पुलिस प्रशासन यदि मनपा को सहयोग देता है तो निश्चित ही कार्रवाई करने मनपा की टिम तैयार है. -प्रशांत रोडे, निगमायुक्त