CSTPS contract workers strike for bonus

    अमरावती. एलआईसी एजेंट तथा पालिसी धारकों की विभिन्न मांगों को लेकर आल इंडिया लियाफी ने कई बार एलआईसी मैनेजमेंट से पत्र व्यवहार किया, लेकिन उनकी किसी भी मांग को सकारात्मक प्रतिसाद नहीं दिए जाने के चलते एलआईसी एजेंट ने मंगलवार को एलआईसी शाखा 979 तथा सीएबी शाखा 9152 के विभागीय कार्यालय के सामने एक दिवसीय विश्रांति दिन मनाया. एलआईसी एजेंटों ने नारेबाजी करते हुए मांगों को पूर्ण करने के लिए एक दिवसीय धरना दिया.

    पालिसी का बोनस बढ़ाया जाए

    आंदोलन कर्ताओं की मानें तो इसके पूर्व भी जागृति आंदोलन किया गया था, बावजूद इसके मैनेजमेंट ने उनकी बातें नहीं मानी. इसीलिए दुबारा यह आंदोलन किया गया. आंदोलन में पॉलिसियों पर दिए जाने वाले लोन पर ब्याज दर कम किया जाए, जीवन बीमा पॉलिसियों पर दिया जाने वाला बोनस बढ़ाया जाए, जीवन बीमा पालिसियों के प्रीमियम पर लिया जाने वाले जीएसटी को हटाने के साथ-साथ 12 मांगों का समावेश किया गया है.

    20 लाख की ग्रेजुएटी, पीएफ दें

    आंदोलन कर्ताओं की माने तो इसमें से प्रमुख मांगों को मान्य करने की मांग की गई है जिसमें अभिकर्ताओं समेत परिवार को 10 का मेडिक्लेम और एजेंट को 20 लाख की ग्रेजुएटी मिलनी ही चाहिए तथा अभी कर्ताओं के लिए पीएफ की शुरुआत किए जाने की मांग की गई है. आंदोलन में संतोष कावरे, सुधीर ढाकुलकर, संदीप सुने, अय्युबभाई , प्रकाशजी पुरसवानी, गजानन तेटु, राजेश सुने, विवेक धर्माधिकारी, अशोक राठी, साहबराव हटवार, दिवाकर रिठे, संजय कुर्हाडे, राजू राऊत, देविदास सोनोने, संजय क्षीरसागर, कैलास जोशी, विजय शिरसाट, सरदार, रवि बरवट, अशोक देशकर, रमेश मोहोड, मदन कपूर, रमेश चव्हाण, योगेश ठाणेकर, योगेश बेलंगे, दर्शन कौसकीया, भारत गवई, निस्सारुद्दीन अल्लाहुदीन, दिलीप काले, मुकुंद अन्नासाने, सचिन मेहरे, अनिल उमाले, अरविंद ठाकरे, गजानन मेंटकर, अनिल राऊत, हरीश पुरवार, लंगडे, राजू जोगदंड, मोहन मनोहरे, रमेश मोहोड, नामदेव पेटकर, प्रदीप ढोणे, मनोज बनसोड, दीपक गुलहाने, अनिश शाह, मनीष अन्नदाते, सुनील धांडे, संजय चव्हाण, स्वदेश शर्मा, रविंद्र तिप्पट, गजानन शिरभाते, सपकाल, गाथा, मनीष ठाकरे, सुभाष देशमुख, दीपक तिवारी, संजय वानखडे, सुनील उमक, भगत, जाधव, नांदूरकर, गुंडीयाल, अर्चना तालन, सुषमा चुटे, गीता विठ्ठलानी, सारिका ठाकरे, पुष्पा जुनघरे, लता ढवले, स्वाती मेहिस्कर, वैशाली चतकर, कल्पना कावले, सीमा कावले, रेखा कापुस्करी आदि उपस्थित थी.