डफरीन पावर हाऊस का नापजोख आज, एएमसी ने निपटाई जब्ती प्रक्रिया

    • एलबीटी समेत 13 करोड़ 65 लाख का बकाया 

    अमरावती. संपत्ति कर समेत एलबीटी के 13 करोड़ 65 लाख रुपए बकाया होने से नीलामी की प्रक्रिया के तहत बिजली महावितरण कंपनी के शहर कार्यालय डफरीन पावर हाऊस का नापजोख बुधवार 14 जुलाई को होंगा. महानगरपालिका ने 30 जून को ही महावितरण कंपनी को जब्ती की नोटिस बजा दी थी. 

    रेडीरेकनर अनुसार ठहराएंगे कीमत

    महापालिका की टीम नापजोख के लिए दो बार महावितरण के शहर कार्यालय जाकर आई. लेकिन नापजोख का विरोध किये जाने से यह टीम लौट आई. बुधवार कोसहायक आयुक्त नरेंद्र वानखड़े के नेतृत्व में नापजोख होंगी. नापजोख के बाद सहायक संचालक नगर रचना से संपत्ति नीलाम करने के लिए कीमत तय  की जाएंगी. जिसके अनुसार नीलाम की दृष्टि से महानगरपालिका यह प्रक्रिया शुरू करेंगी.

    शहर में स्ट्रीट लाइट पर 19 करोड़ 18 लाख रुपए के बिल महानगरपालिका पर बकाया होने से यह स्ट्रीट लाइट बंद कर दिए गए थे. जिससे रातभर शहर की प्रमुख सड़कें अंधेरे में डूबी रही. दूसरे दिन मनपा ने 1.20 करोड़ रुपए का चेक महावितरण को दिया. जिसके बाद  मनपा ने जब्ती की नोटिस डफरीन स्थित बिजली के शहर कार्यालय के बाहर चस्पा कर दी थी. 

    नीलामी की प्रक्रिया शुरू

    डफरीन पावर हाऊस की नीलानी की प्रक्रिया शुरू की जा रही है. संपत्ति का नापजोख करने क लिए टीम दो से तीन बार जाकर लौट आई. जिससे अब कड़े प्रबंधों में बुधवार को यह नापजोख होंगी. जिसके बाद सहायक संचालक नगर रचनाविभाग के पास रेडीरेकनर के अनुसार कीमत निकालने के लिए प्रकरण भेजा जाएंगा. जिसके बाद नीलामी होंगी.  -नरेंद्र वानखड़े, सहायक आयुक्त

    नापजोख के बारे जानकारी नहीं 

    महानगरपालिका से संपत्ति के नापजोख किए जाने संबंधि कोई जानकारी नहीं है. एलबीटी का प्रकरण वरिष्ठ कार्यालय को भेजा गया है. जब्चती की कार्रवाऊ न करने संबंधि वरिष्ठ कार्यालय से मनपा को पत्र भेजा गया है. -आनंद काटकर, कार्यकारी अभियंता, महावितरण