child
File Pic

    शिरजगांव कसबा. सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, का नारा दे रही है. पूरे देश में बेटी बचाने के लिए तरह-तरह के अभियान भी चलाए जा रहे हैं, लेकिन इन प्रयासों के बावजूद जन्म होते ही बेटियों को लावारिस फेंकने की घटनाएं सामने आ रही है.

    इसी तरह मानवता को शर्मसार कर देने वाला एक मामला गुरुवार को चांदुर बाजार तहसील के शिरजगांव कसबा थाना क्षेत्र के खरपी ग्राम में उजागर हुआ है. जहां 1 दिन पहले जन्मी एक नवजात बालिका को खरपी ग्राम पंचायत के पीछे निर्माण कार्य के गड्ढे में लावारिस अवस्था में फेंक दिया. जिससे नवजात शिशु की मौत हो गई. 

    एक महिला की चप्पल भी बरामद

    खरपी के पुलिस पाटिल ने शिरजगांव कसबा पुलिस को जानकारी दी कि ग्राम पंचायत के पीछे एक गड्ढे में नवजात शिशु मृत अवस्था में पड़ा है. सूचना पुलिस वहां पहुंची. पुलिस ने पंचनामा कर नवजात के शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल में भिजवाया. पुलिस को घटनास्थल से एक महिला की चप्पल भी बरामद हुई है.

    पुलिस पूरे मामले की बारिकी से छानबीन कर रही. पुलिस ने प्राथमिक जांच में अनुमान लगाया है कि नवजात का जन्म होते ही माता ने उसे गड्ढे में फेंककर हत्या कर दी. आखिरकार किन कारणों से उसने यह कदम उठाया है. इस बारे में पुलिस जांच कर रही है.