Coronavirus in Birsi Fata, Gondia, Village

    नांदगांव खंडेश्वर. कड़े लाकडाउन के साथ-साथ सरकार द्वारा निर्धारित नियमों का कड़ाई से पालन करने के कारण जिले के शेलू नटवा गांव ने कोरोना को गांव के बाहर ही रोकने में कामयाबी हासिल की है. वैसे तो नांदगांव खंडेश्वर तहसील के कई गांवों में कोरोना के मरीज मिलना जारी है. लेकिन शेलू नटवा गांव में एक भी कोरोना संक्रमित नहीं मिला है. गांववासियों द्वारा नियम व संयम का पालन करने से ही यह संभव हो पाया है.

    कोरोना मुक्त आदर्श गांव

    तहसील के कई गांवों में कोरोना का फैलाव हो चुका है. लेकिन सेलू नटवा गांव ने कोरोना मुक्त होने का आदर्श प्रस्थापित कर दिया है. गांव के लोग स्वयं सरकार द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करते हैं. अब तक गांव में एक ही पाजिटिव व्यक्ति मिला था. उसके बाद गांव में ऐसी कड़ी पाबंदिया लगाई गई की अब दूसरा कोई भी पाजिटिव नहीं निकल पाया है. 

    टीकाकरण में लीड

    कोरोना टीकाकरण में भी गांव ने अग्रणी भूमिका निभाई है. अब तक गांव के 120 लोगों का टीकाकरण किया गया है. टीकाकरण अभियान को भी लोगों का अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है.  अभियान में ग्रामसेवक रतन खडसे, प्रा.जे. एम कोठारी, पटवारी लोनारे, आशा वर्कर चौधरी,आंगनवाडी सेविका आशा बसवनाथे, द्रोपदा देवकर, पुलिस पाटिल शीतल भोयर का योगदान है. 

    जन सहयोग से करिश्मा

    गांव के हर व्यक्ति व प्रशासन के हर कर्मचारी ने सरकार के प्रत्येक दिशा-निर्देशों का पालन किया. इससे गांव को कोरोना मुक्त रखने में अहम योगदान मिला. गांव को कोरोना मुक्त रखने के लिए टीकाकरण पर जोर दिया जा रहा है.- वैशाली भोयर,सरपंच, सेलू (नटवा)