2.62 lakh customers did not pay 170 crores electricity bill

    अमरावती. महानगरपालिका व महावितरण कंपनी के बीच टकराव की स्थिति उत्पन्न हो गई है. 19 करोड़ रुपयों का बकाया रहने से महावितरण ने मनपा शहर में स्ट्रीट लाइट बंद कर दिए. जिससे महानगरपालिका ने भी बिजली महावितरण कंपनी को लेकर सख्त एक्शन लिया है. डफरिन स्थित महावितरण के शहर कार्यालय पर 13 करोड़ 66 लाख रुपयों की बकाया टैक्स वसूली के लिए बिजली कार्यालय पर कुर्की की नोटिस बजा दी है.   

    महापालिका व महावितरण में टकराव

    महावितरण के डफरिन स्थित शहर कार्यकारी अभियंता के नाम भेजे गए पत्र में 15 दिनों का अल्टीमेटम दिया है. संपत्ति क्रमांक 503 पर 13 करोड़ 66 लाख 834 रुपये बकाया है. बकायेदार संपत्ति धारक को अगेल आदेश तक इस संपत्ति का हस्तांतरण करने तथा किसी भी प्रकार का बोजा चढ़ाने पर भी रोक लगाई है. किसी को भी हस्तांतरण अथवा कर्ज के माध्यम से लाभ लेने के लिए भी मनाही की जाती है.

    नोटिस की तिथि से लेकर 15 दिनों के भीतर यदि महानगरपालिका के संपत्ति टैक्स विभाग स्थित कार्यालय में बकाया टैक्स का भुगतान नहीं किया गया तो संबंधित संपत्ति जब्त कर आन द स्पाट नीलामी किए जाने का अल्टीमेटम भी मनपा प्रशासन ने पत्र में दिया है.  

    विषय खत्म करने का प्रयास

    महावितरण कंपनी के पास अनेक वर्षों से एलबीटी का बकाया है. पिछले कई वर्षों से इस पर हल नहीं निकल पाया है. एलबीटी के 13 करोड़ रुपए का समायोजन कर यह विषय खत्म करने का प्रयास शुरू है.-प्रशांत रोडे, निगमायुक्त

    वरिष्ठ स्तर पर फालोअप 

    केवल चालू वर्ष का 30 ते 35 हजार रुपयों का संपत्ति टैक्स बकाया है. 13 करोड़ रुपए की एलबीटी रकम की मांग विवादित है. इस विषय को लेकर वरिष्ठ स्तर पर फालोअप शुरू है. -दिलीप खानंदे, अधीक्षक अभियंता, महावितरण

    महावितरण पर कितने करोड़ बकाया 

    सामान्य टैक्स 37933.00

    अग्नि टैक्स 2529.00

    पानीपट्टी टैक्स —

    वृक्ष टैक्स 1264.00

    शिक्षा टैक्स 15173.00

    रोगायो टैक्स 3793.00

    स्ट्रीट टैक्स 10115.00

    बड़ी इमारत का टैक्स —

    खुले भूखंड़ का टैक्स —

    संस्था टैक्स 136525779.00

    वारंट शुल्क —

    जब्ती शुल्क —

    जुर्माना 2 प्रतिशत 4248.00

    कुल 13,66,00,834 रुपये